Home बिज़नेस जीडीपी में गिरावट के बाद पहली बार बोली वित्त मंत्री : कहा, चुनौती अभी भी बरकरार है

जीडीपी में गिरावट के बाद पहली बार बोली वित्त मंत्री : कहा, चुनौती अभी भी बरकरार है

0 second read
0
4

पिछले साल नवंबर में जब कोरोना वायरस ने चीन में दस्तक दी थी तो किसी ने भी नहीं सोचा था की एक वुहान नाम की सिटी से निकला वायरस पूरी दुनिया को अपने शिकंजे में ले लेगा।

इस कोरोना नाम की बीमारी के कारण राजनेताओं को लॉकडाउन लगाना पड़ा और उसका नुकसान आर्थिक रूप से हुआ। पूरी दुनिया में लोगों की आवाजाही रुक गयी और एक अनुमान के मुताबिक 10 करोड़ के करीब लोग बेरोजगार हो गए।

अगर भारत की बात करे तो सिर्फ भारत को साल 2020 में 18 लाख करोड़ रूपये का नुकसान होने का अनुमान है। आजादी के बाद पहली बार ऐसा हुआ जब महीनो तक रेल को बंद करना पड़ा।

इस कोरोना नाम की बीमारी के चलते देश में 6 करोड़ परिवार एक बार फिर गरीबी रेखा के नीचे चले जायेगे ऐसा अनुमान है। जीडीपी की बात करे तो आजादी के बाद पहली बार जीडीपी में 23.9 फीसदी की गिरावट आई है।

आने वाले समय में भी यही अनुमान लगाया जा रहा है कि साल 2022 तक जीडीपी दर नेगेटिव ही रहने वाली है ,ऐसे में देश की वित्त मंत्री का एक अहम बयान सामने आया है।

देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है कि कोरोना कब जाएगा और इसकी दवाई कब आएगी ये तय नहीं है। यही कारण है की देश की आर्थिक वृद्धि रुकी हुई है और निश्चित तौर से इस बार हमारे सामने चुनौती बड़ी है।

उन्होंने इस बात को स्वीकार किया की छोटे काम धंधे करने वाले और सर्विस सेक्टर से जुड़े लोगों को पिछले 6 महीनों में हद से अधिक नुकसान उठाना पड़ा है और उसे रिकवर करने में उन्हें समय लग सकता है।

हालांकि उन्होंने इस बात का भी भरोसा दिया है कि सरकार ऐसे लोगों के लिए हर संभव उपाय कर रही है।

Load More In बिज़नेस
Comments are closed.