Home Madhya Pradesh जानलेवा महामारी के बीच मासूम बच्चे को गोद में लेकर नौकरी कर रही महिला पुलिसकर्मी, वीडियो हुआ वायरल

जानलेवा महामारी के बीच मासूम बच्चे को गोद में लेकर नौकरी कर रही महिला पुलिसकर्मी, वीडियो हुआ वायरल

1 second read
0
13

नई दिल्ली : चीन के वुहान से निकला कोरोना अब इतना अधिक जहरीला हो गया है कि अब यह जानलेवा हो गया है। जिसने पिछले साल से लेकर अभी तक करोड़ों जिंदगीयों को निगल लिया है। हालांकि अभी भी WHO कोरोना नामक महामारी कहां से निकला, क्या चीन ही इसका दोषी है, इस पर अपना मोहर नहीं लगा सकी है। वहीं दूसरी तरफ इस महामारी से सुरक्षा को लेकर भारत समेत तमाम देश लगातार प्रयास कर रहे है।

आपको बता दें कि इस महामारी को लेकर देश के कई राज्यों में लॉकडाउन, नाइटकर्फ्यू और कर्फ्यू लगाया गया है, जिससे इस जानलेवा संक्रमण को फैलने से रोका जा सकें। इसी बीच मध्य प्रदेश के गुना से एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक महिला पुलिसकर्मी कर्फ्यू के दौरान अपनी ड्यूटी पर है और उसकी गोद में दो साल का मासूम बच्चा भी है। महिला मां के साथ साथ खाकी वर्दी का भी फर्ज निभा रही है।

वैसे तो मुश्किल हालात में महिला पुलिसकर्मी का फील्ड में ड्यूटी करना कोई नई बात नहीं है। लेकिन जब चारों तरफ संक्रमण फैल रहा हो और लोगों की जानें जा रही हों, ऐसे में मासूम बच्चे को गोद में लेकर ड्यूटी करना बड़ी हिम्मत की बात है। दरअसल, दीपम गुप्ता पुलिस लाइन गुना में बतौर महिला पुलिस आरक्षक पदस्थ हैं, जिन्हें कोरोना कर्फ्यू में अन्य पुलिसकर्मियों के साथ साथ दीपम की तैनाती भी कर दी गई। दीपम को पुलिस लाइन से मोबाइल युनिट में भेज दिया गया। इस दौरान दीपम ड्यूटी पर नौकरी के साथ साथ मां होने का भी फर्ज निभा रही हैं।

मासूम बेटे को गोद में लेकर ड्यूटी के दौरान दीपम की अन्य साथी पुलिसकर्मी भी उनकी मदद करते हैं और गोद में लेकर बच्चे को खिलाते हैं। यहां तक बच्चे के खाने- पीने तक का ख्याल रखते हैं। हालांकि इस दौरान कोरोना कर्फ्यू में संक्रमण का भी खतरा लगातार बना रहता है। इसके बावजूद महिला पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी में किसी तरह की कोई कोताही नहीं बरत रही हैं।

जब इस वायरल हो रहे वीडियो की जानकारी पुलिस अधीक्षक राजीव कुमार मिश्रा के पास पहुंची तो उन्होनें तत्काल महिला आरक्षक को फील्ड से वापस लाइन में तैनात कर दिया। कोरोना कर्फ्यू में मासूम बच्चे को गोद में लेकर ड्यूटी करने के इस मामले को पुलिस अधीक्षक ने गंभीरता से लिया और महिला की ड्यूटी कैंसिल कर दी। आपको बता दें कि जिले भर में कई महिला पुलिसकर्मी हैं जो कोरोना कर्फ्यू में अपनी सेवाएं दे रही हैं, लेकिन खाकी के प्रति दीपम का इस तरह का समर्पण देखकर हर कोई उन्हें सलाम कर रहा है।

Load More In Madhya Pradesh
Comments are closed.