1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. वृद्धा पेंशन के लिए 6 महीने पहले बुजुर्ग महिला ने किया था आवेदन, विभाग ने वेरिफिकेशन में दिखा दिया मृत

वृद्धा पेंशन के लिए 6 महीने पहले बुजुर्ग महिला ने किया था आवेदन, विभाग ने वेरिफिकेशन में दिखा दिया मृत

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : गजब की दुनिया है ये साहब, जो मृत को जिंदा और जिंदा को मृत बताती है। अपने आपको जिंदा साबित करने के लिए उस व्यक्ति को कोर्ट, कचहरी और ऑफिसरों के ऑफिस की चक्कर काटते-काटते चप्पल घिस जाती है, लेकिन उन्हें अफसर जल्द जिंदा नहीं करते। क्योंकि अगर वे उन्हें जिंदा करेंगे तो इसके चपेट में कई लोगों की नौकरी तो जायेगी ही, साथ ही लापरवाह का भी तमगा लगेगा। हालांकि ऐसा पहली बार नहीं है, जब किसी विभाग ने लापरवाही की हो।

आपको बता दें कि एक लापरवाही का ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के गाजीपुर से सामने आया है, जहां एख बुजुर्ग महिला ने वृद्धा पेंशन के लिए 6 महीने पहले आवेदन किया था। लेकिन जब इस आवेदन का वेरिफिकेशन किया गया तो इस महिला को मृत बता दिया है। हालांकि इस बात की जानकारी कुछ सामाजिक संगठनों को लगी, जिसके बाद यह जानकारी डीएम के संज्ञान में आया।

जैसे ही मामला डीएम की जानकारी में आया, संबंधित विभाग ने डैमेज कंट्रोल करते हुए भगली देवी के फॉर्म में संशोधन कर देने का दावा किया है। 85 साल की भगली देवी ने वृद्ध पेंशन के लिए छह महीने पहले आवेदन किया था। लेकिन वेरिफिकेशन की प्रक्रिया के बाद समाज कल्‍याण विभाग के दस्‍तावेजों में उनको मृत बता दिया गया। इस मामले की जानकारी कुछ समाजसेवियों के जरिए जब जिलाधिकारी को मिली तो उन्‍होंने समाज कल्‍याण विभाग को इस मामले में निर्देश दिए।

भगली देवी ने बताया कि पहले करीब 2 सालों तक उनको पेंशन योजना का लाभ मिला है। लेकिन इधर उनकी पेंशन बंद कर दी गई थी। विभाग के कुछ लोगों ने उनके घर आकर जानकारी भी ली थी, मोबाइल में फीड भी किया था। इस सब के बाद भी उनको पेंशन नहीं मिल पा रही है। इस मामले में जिला समाज कल्याण अधिकारी रामविलास यादव ने मीडिया को बताया कि भगली देवी के ऑनलाइन एकाउंट से पेंशन के लिए दो आवेदन कर दिए गए थे। इनमें से एक आवेदन को कैंसिल कर एक आवेदन को आगे की प्रक्रिया के लिए लखनऊ भेज दिया गया है। अब भगली देवी को सीधे उनके बैंक एकाउंट में पेंशन मिल जाएगी। इसके साथ ही उनको वेरिफिकेशन में मृत दिखाने वाले कर्मचारी के खिलाफ जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads