1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. AIMIM नेता का विवादित बयान, “Owaisi को प्रधानमंत्री बनाना है तो ज्यादा बच्चे पैदा करो”

AIMIM नेता का विवादित बयान, “Owaisi को प्रधानमंत्री बनाना है तो ज्यादा बच्चे पैदा करो”

Controversial statement of AIMIM leader, "If you want to make Owaisi the Prime Minister, then produce more children", देश के पांच राज्यों में जल्द चुनाव होने है। इसे लेकर सभी पार्टी लगातार रैली कर रहे है। इसी बीच AIMIM नेता ने एक बड़ा विवादित बयान दिया है।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली: “अगर असदुद्दीन ओवैसी को प्रधानमंत्री बनाना है तो मुस्लिमों को अधिक बच्चे पैदा करने होंगे।“ ये कहना है AIMIM नेता गुफरान नूर का। आपको बता दें कि जल्द ही देश के पांच राज्यों में चुनाव होने है। इसे लेकर सभी पार्टियां अपना कमर कस चुंकी है। इसमें असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) भी अपना हाथ अजमा रही है। इसे लेकर ओवैसी लगातार इन दिनों उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे हैं।

मुस्लिम वोटों को लेकर ओवैसी का कहना है कि आखिर जब सभी धर्मो, जातियों का अपना नेता है तो आप अपना नुमाइंदा कब चुनेंगे। इस बीच AIMIM अलीगढ़ जिलाध्यक्ष गुफरान नूर का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वो कहते दिखाई दे रहे हैं कि अगर असदुद्दीन ओवैसी को प्रधानमंत्री बनाना है तो मुस्लिमों को अधिक बच्चे पैदा करने होंगे। गुफरान नूर का कहना है कि मुस्लिमों के अधिक बच्चे नहीं होंगे तो फिर हमारी कौम भारत पर राज कैसे करेगी?

उन्होंने कहा कि हमारी संख्या अधिक नहीं होगी तो असदुद्दीन ओवैसी साहब प्रधानमंत्री कैसे बनेंगे, शौकत अली साहब कैसे यूपी के मुख्यमंत्री बनेंगे। वीडियो में गुफरान नूर अपने आसपास मौजूद लोगों को समझाते हुए दिख रहे हैं। वो कह रहे हैं कि ”अरे जब बच्चे ना होंगे, तो हम कैसे राज करेंगे?”

उन्होंने कहा कि दलितों, मुसलमानों को डराया जा रहा है कि बच्चे पैदा करना बंद करो। क्यों बंद करें बच्चे? यह हमारे शरीयत के ख़िलाफ़ है। हालांकि इस वीडियो को वायरल होने के बाद नूर ने अपनी सफाई में कहा, ”जितनी हिस्सेदारी हमारी कुरबानी में रही है, उतनी भागीदारी पैदावार में नहीं रही है। तो मेरा निजी विचार है कि मेरे सदर ओवैसी साहब प्रधानमंत्री बनें, कैसे होगा, इस तरीके की चर्चा चली थी और इसमें मैंने कुछ गलत नहीं कहा।”

 

वैसे चुनावी रैलियों में खुद को सेकुलर नेता बताने वाले ओवैसी अपने आप को मुसलमानों से लेकर पिछड़ों और दलितों का अगुआ बताते हैं। लेकिन यूपी विधानसभा चुनाव पर नजर डालें तो ओवैसी का निशाना यूपी के 19% मुस्लिम मतदाताओं पर है। इन वोटर्स का असर यूपी की 143 सीटों पर माना जाता है। इसी वजह से AIMIM मुस्लिम बाहुल्य वाली सीटों पर चुनाव लड़ने की रणनीति बना रही है। यूपी में 70 सीटों पर 20 से 30% मुस्लिम वोट हैं तो 75 सीटों पर करीब 39 से 45 फीसदी।

इन राज्यों में होने है चुनाव

आपको बता दें कि साल 2022 में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में चुनाव होने है। इनमें से चार राज्यों में बीजेपी तो पंजाब में कांग्रेस की सरकार है। पंजाब में आम आदमी पार्टी, बीजेपी और कांग्रेस में जबरदस्त टक्कर देखने को मिलने वाली है। वहीं उत्तर प्रदेश में एक बार फिर बीजेपी की सरकार बनने की संभावना है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...