Home देश ज्योतिरादित्य सिंधिया की सभा में किसान की मौत पर कांग्रेस हुई हमलावर, पढ़िए

ज्योतिरादित्य सिंधिया की सभा में किसान की मौत पर कांग्रेस हुई हमलावर, पढ़िए

37 second read
0
7
Congress attacker on Jyotiraditya Scindia's death, farmer read, read

एमपी में 28 सीटों पर जल्द ही उपचुनाव होने वाले है और इस समय बीजेपी और कांग्रेस के बड़े नेताओं ने चुनाव प्रचार में जान झोंकी हुई है। इसी बीच कांग्रेस से बीजेपी में लैंड हुए सिंधिया भी जमकर रैलियां कर रहे है लेकिन उनकी एक रैली विवादों में आ गई है।

दरअसल हुआ ऐसा की मंधाता विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव में सिंधिया जी की जनसभा थी और वो उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे। इसी बीच खबर आती है की एक 80 साल के किसान की अचानक मौत हो गई है।

जब किसान की मौत हुई तो उस वक्त सिंधिया वहां नहीं थे और जब वो उस जनसभा में गए तो उस समय तक शव को वहां से हटाया जा चुका था वहीं उन्होंने एक मिनट का मौन रखने के बाद ही सभा को संबोधित किया।

लेकिन उस किसान की मौत पर भी अब राजनीति शुरु हो गई है और कांग्रेस ने इस पुरे मामले में बीजेपी को जमकर घेरा है। एमपी कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर इस खबर से संबंधित दो ट्वीट किए गए है।

पहले ट्वीट में लिखा गया है, आज बीजेपी के कार्यक्रम में एक किसान की मौत हो गई लेकिन बीजेपी के बेशर्म नेताओं ने कार्यक्रम नहीं रोका। किसान की लाश पड़ी रही और बेशर्म भाजपाई ताली बचाते रहे।

वहीं अपने दूसरे ट्वीट में कांग्रेस ने दावा किया है कि बीजेपी की गाड़ी उस किसान को उनके घर से ले गई थी एवं पानी नहीं मिलने से उनकी मौत हुई है। ऐसा उस किसान के परिवार का कहना है जिसका वीडियो भी कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल से जारी किया है।

आपको बता दे, एमपी में अगले महीनें 28 सीट पर चुनाव होने है लेकिन उससे पहले महिला मंत्री के सम्मान को लेकर बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर हो गई है।

दरअसल यह पूरा मामला पूर्व सीएम कमलनाथ की एक टिपण्णी के बाद शुरु हुआ जिसमें उन्होंने सरकार में मंत्री इमरती देवी को आइटम कह दिया।

इमरती देवी पहले कांग्रेस में ही थी लेकिन बाद में सिंधिया के आने के बाद बीजेपी में शामिल हो गई और अब बीजेपी ने उन्हें उम्मीदवार बनाया है।

कमलनाथ के इस बयान के बाद इमरती देवी ने सोनिया गांधी से उन्हें हटाने की विनती की है और उधर सीएम शिवराज उनके सम्मान में धरने पर बैठ गए है। उन्होनें आज अपने अनशन की कुछ तस्वीरें ट्विटर पर शेयर भी की है।

उन्होंने कहा, पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के बयान से उनके और कांग्रेस का चाल, चरित्र और असली चेहरा उजागर हुआ है।

Load More In देश
Comments are closed.