Home gujarat सावधान!…शवों के आंकड़ों में हो रहा बड़ा घोटाला, 6 घंटे में मॉर्चरी से निकले 50 शव, सरकारी आंकड़ें में केवल 24 मौतें

सावधान!…शवों के आंकड़ों में हो रहा बड़ा घोटाला, 6 घंटे में मॉर्चरी से निकले 50 शव, सरकारी आंकड़ें में केवल 24 मौतें

0 second read
0
83

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

गुजरात : कोरोना के आंकड़े तेजी से दोबारा बढ़ रहे हैं । इसी बीच कई जगहों से कोरोना की डरावनी तस्वीर सामने आ रही है । सरकार पर आंकड़े छिपाने के गंभीर आरोप लग रहे हैं । ऐसे में जब आजतक ने इस बात की पड़ताल की तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ ।

आजतक संवाददाता गोपी घांघर ने जब अहमदाबाद के सबसे बड़े कोविड अस्पताल पहुंचकर मौके का जायजा लिया, तो कुछ और ही तस्वीर सामने आयी । जहां कुछ लोगों का कहना था कि उनके परिवार के सदस्य अस्पताल लाने तक ठीक थे, लेकिन कोविड अस्पताल में आने के बाद उनकी मौत हो गयी ।

संवाददाता ने कोविड अस्पताल में पूरे 6 घंटे बिताए । जहां उन्होंने अस्पताल और एंबुलेंस से निकल रहे शवों को गिना । उनके मुताबिक, सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक के बीच करीब हर घंटे कम से कम 10 डेड बॉडी अस्पताल से बाहर ले जाई गई ।

जबकि सरकारी आंकड़ों की माने तो अहमदाबाद में 24 मौत हुई हैं, लेकिन हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है । आपको बता दें कि अभी तक केवल एक कोविड अस्पताल की पड़ताल में ये बात सामने आयी है । पूरे अहमदाबाद में जहां प्राइवेट अस्पताल में कुल 5700 बेड हैं, वहीं सरकारी अस्पताल में 1000 बेड है । इन अस्पतालों की जांच की जाएं, तो डराने वाले आंकड़े सामने आ सकते हैं ।

इसके अलावा श्मशान घाट में जल रहे शव की कतारें भी सरकारी आंकड़ों में हो रहे घोटाले की तस्वीर दिखा कर रही है । जहां अंतिम संस्कार के लिए शव को घंटों भर न रखना पड़े, इसके लिए गुरुवार से लकड़ी के जरिए भी दाह संस्कार शुरु कर दिया गया है ।

सरकारी आंकड़ों में हो रही गड़बड़ी को लेकर संवाददाता ने सिविल अस्पताल के सुप्रिटेंडेंट डॉ. जेवी मोदी से सवाल किया । हालांकि, उनका कहना है कि हम तो कोविड प्रोटोकॉल के तहत ही बॉडी को हैंडओवर करते हैं । सरकारी आंकड़ों के बारे में हम कैसे कह सकते हैं ।

Load More In gujarat
Comments are closed.