Home लाइफस्टाइल सावधान: कहीं आपके बच्चे ने तो नहीं खोई अपनी वर्जिनिटी, ऐसे पहचानें

सावधान: कहीं आपके बच्चे ने तो नहीं खोई अपनी वर्जिनिटी, ऐसे पहचानें

0 second read
0
121

रिपोर्ट: गीतांजली लोहनी

नई दिल्ली: बच्चे हो या बड़े हर कोई मनोरंजन के लिए फिल्म देखना पसंद करता है। और फिल्में देखकर दर्शकों के मन में कई तरह के प्रभाव देखने को मिलते है। लेकिन क्या आप जानते है कि बच्चों के मन में फिल्मों का कैसा प्रभाव पड़ता है। दरअसल, बच्चों का मन हर चीज़ को बहुत तेज़ी से सीखता है और उसको जिंदगी में उतार लेता है। तो ऐसे में बच्चों को सोच समझकर फिल्म देखने का चयन करने की सख्त जरुरत है।

क्य़ोंकि एक अध्ययन के अनुसार एडल्ट फिल्में देखने वाले बच्चें, ऐसी फिल्में नहीं देखने वाले बच्चों की तुलना में न केवल जल्दी अपना वर्जिनिटी खोते हैं, अर्थात ऐसे बच्चे पहला सेक्स अनुभव और पहला यौन संबंध जल्दी बना लेते है। बल्कि इस अध्ययन में ये भी पाया गया कि सेक्सी फिल्में देखने वाले बच्चों द्वारा असुरक्षित यौन संबंध बनाए जाने की संभावना भी ज़्यादा हो जाती है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, छह साल तक चले इस अध्ययन में 1,200 से भी ज़्यादा बच्चों पर फिल्मों में दिखाए जाने वाले सेक्स दृश्यों के असर की पड़ताल की गई। अमेरिका के दार्थमाउथ कॉलेज और आईवी लीग यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने साल 1998 से लेकर साल 2004 तक की 684 फिल्मों का सर्वे किया और उनमें दिखाए गए एडल्ट सीन के आधार पर उनका वर्गीकरण किया। ‘आइज़ वाइड शट’ जैसी फिल्मों को ‘अधिक सेक्स दृश्य’ वाली श्रेणी में रखा गया, जबकि ‘लॉर्ड ऑफ द रिंग्स : द रिटर्न ऑफ द किंग’ को ‘कम सेक्स दृश्य’ वाली श्रेणी में रखा गया था।

इसीलिए आप सभी अपने बच्चों द्वारा फिल्मों के चयन पर जरुर ध्यान रखें।

Load More In लाइफस्टाइल
Comments are closed.