1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. पंजाब को अरविंद केजरीवाल की गारंटी, कहा- आम आदमी पार्टी पंजाब में एक ईमानदार, स्थिर और मजबूत सरकार देगी

पंजाब को अरविंद केजरीवाल की गारंटी, कहा- आम आदमी पार्टी पंजाब में एक ईमानदार, स्थिर और मजबूत सरकार देगी

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में आज दो जनसभाएं की। इस दौरान पंजाब के लोगों को गारंटी देते हुए उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी पंजाब में एक ईमानदार, स्थिर और मजबूत सरकार देगी। आज पंजाब में बहुत कमजोर सरकार है। यह सरकार अच्छी व्यवस्था, विकास और शांति नहीं दे सकती।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली/पंजाब: आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में आज दो जनसभाएं की। इस दौरान पंजाब के लोगों को गारंटी देते हुए उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी पंजाब में एक ईमानदार, स्थिर और मजबूत सरकार देगी। आज पंजाब में बहुत कमजोर सरकार है। यह सरकार अच्छी व्यवस्था, विकास और शांति नहीं दे सकती। हमारी सरकार पंजाब में शांति-व्यवस्था कायम कर हर व्यक्ति को सुरक्षा देगी और सभी धर्म-जातियों के बीच भाई-चारा बढ़ाएगी। ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम ईमानदार पुलिसवालों को अच्छी पोस्टिंग देंगे और पुलिस के कार्य में कोई भी राजनीतिक दखलअंदाजी नहीं होगी। बेअदबी और बम ब्लास्ट के सभी कांड की जांच करा कर मास्टर माइंड को पकड़कर जेल में चक्की पिसवाएंगे। बॉर्डर की कड़ी सुरक्षा करेंगे और पाकिस्तान से किसी आतंकवादी या नशे का सामान अंदर नहीं आने देंगे। इसके साथ ही, गुरुद्वारे, मंदिर-मस्जिद, चर्च और डेरे की सुरक्षा के लिए अलग से पुलिस फोर्स बनाएंगे और सरकार बनने के छह महीने के अंदर हम पंजाब से नशा खत्म कर देंगे। ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के लोगों से अपील करते हुए कहा कि मैं सिर्फ 5 साल मांग रहा हूं। अगर हमने काम नहीं किया, तो अगली बार लात मार कर हमें भगा देना।

पहले बेअदबी और अब बम ब्लास्ट, कुछ लोग पंजाब का माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

पंजाब दौरे पर आए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज गुरदासपुर के हनुमान चौक और धारीवाल के न्यूएगर्टिन वूलन मिल्स ग्राउंड में दो जनसभाओं को संबोधित किया। इस दौरान वे एक क्रिसमस समारोह में भी शामिल हुए। गुरुदासपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरे देश में पंजाब पठानकोट और गुरुदासपुर से सबसे ज्यादा लोग फौज में भर्ती होते हैं और इन दोनों जगहों के रहने वाले लोग फौज में सबसे ज्यादा शहीद हुए हैं। दोनों जिले एक तरह से देशभक्तों के जिले हैं। कल लुधियाना में बम ब्लास्ट हुआ। यह सुनकर बहुत दुख हुआ। इसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और कुछ लोग घायल हुए हैं, जो अस्पताल में हैं। इसके कुछ दिन पहले, पिछले हफ्ते श्री हरमिंदर साहब जी के दरबार में श्री गुरुग्रंथ साहब की बेअदबी करने की कोशिश की गई। कुछ लोग तो हैं, जो पंजाब का माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। यह सारी वारदातें चुनाव के समय पर क्यों होती हैं? पिछली बार भी चुनाव के हफ्ते-दस दिन पहले मौर में बम ब्लास्ट हुआ था। पिछली बार भी 2015 में बेअदबी का बरगाड़ी कांड हुआ था और अब फिर चुनाव के कुछ दिन पहले, कुछ लोगों ने पंजाब का माहौल खराब करने की साजिश रची है। ये लोग कौन हैं? यह कौन करवा रहा है? जिस व्यक्ति ने दरबार साहब के अंदर जाकर बेअदबी करने की कोशिश की, मेरे हिसाब से उसने खुद नहीं किया, बल्कि उसे भेजा गया है। किसी ने उसे भेजा है। कोई मास्टर माइंड है, वो कहीं बैठा है, जो यह करवा रहा है। जब तक उस तक नहीं पहुंचेंगे, तब तक इस तरह के सिलसिले चलते रहेंगे।

अगर मास्टर माइंड को पकड़कर सख्त सजा दी गई होती, तो दोबारा बेअदबी करने की किसी की हिम्मत नहीं होती- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब पिछली बार 2015 में बेअदबी का कांड हुआ था, उसके बाद 2016, 2017, 2018 बीत गया, सरकार बदल गई, अकाली दल की सरकार चली गई, कांग्रेस की सरकार आ गई। इसके बाद कैप्टन बदल गए और अब चन्नी साहब की सरकार आ गई, लेकिन आज तक दोषियों को सजा नहीं मिली। तो पंजाब की सरकारें क्या संदेश दे रही हैं कि ये चलता रहेगा, हम कुछ नहीं कर सकते हैं, हम तुम्हारे साथ खड़े हैं। ये सरकारें दोषियों के साथ खड़ी हैं। अगर पहले जिन लोगों ने बेअदबी करवाई थी, उनके मास्टर माइंड को पकड़ कर सख्त से सख्त सजा दिलवाई गई होती, तो पंजाब के अंदर दोबारा बेअदबी करने की किसी की हिम्मत नहीं होती। तो हम क्या माने? ये सारे आपस में मिले हुए हैं। पंजाब के अंदर आज एक बहुत ही कमजोर सरकार है। ये लोग आपस में ही लड़ रहे हैं। ये लोग आपस में झगड़ रहे हैं। ये मंत्री उसके खिलाफ लड़ रहा है। पंजाब का अध्यक्ष मुख्यमंत्री के खिलाफ लड़ रहा है। ये लोग क्या पंजाब सरकार चलाएंगे। इतनी कमजोर सरकार पंजाब को अच्छी व्यवस्था, विकास और शांति नहीं दे सकती है, जो आज पंजाब की सबसे बड़ी जरूरत है। आम आदमी पार्टी की सरकार बनेगी, हम पंजाब को सख्त, स्थित और कट्टर ईमानदार सरकार देंगे। पंजाब में जब तक एक सख्त और ईमानदार सरकार नहीं आएगी, तब तक शांति बहाली नहीं हो सकती है और इस किस्म के बम ब्लास्ट और बेअदबी के कांड होते रहेंगे।

पंजाब को एक ईमानदार, स्थिर और मजबूत सरकार देने के लिए आम आदमी पार्टी पांच प्रमुख कदम उठाएगी- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरे देश के अंदर आम आदमी पार्टी एक अकेली पार्टी है, जो ईमानदारी के साथ काम करती है। हमने दिल्ली के अंदर करके दिखाया है, दिल्ली के अंदर भ्रष्टाचार को खत्म कर दिया। हम पंजाब के अंदर भी एक ईमानदार, स्थिर और सख्त सरकार देंगे। हम एक ऐसी सरकार देंगे, जो आपस में लड़ाई-झगड़ा नहीं करेगी। आज देशभक्तों की इस पावन धरती से मैं पंजाब के लोगों को एक गारंटी देकर जा रहा हूं कि आम आदमी पार्टी की सरकार आएगी, पंजाब में शांति व्यवस्था कायम करेंगे, हर व्यक्ति को सुरक्षा देंगे और पंजाब के अंदर सभी धर्मों, सभी जातियों के अंदर भाई-चारा बढ़ाएंगे। इसके लिए हम पांच कदम उठाएंगे। पहला, पुलिस के अंदर जितनी भर्तियां होती हैं, वो सारी पैसे लेकर होती हैं। हम सुन रहे हैं कि आज की मौजूदा सरकार में भी पुलिस वालों की भर्ती के रेट लगे हुए हैं। यह सब बंद होगा। ईमानदारी के साथ अच्छे पुलिस वालों को अच्छी पोस्टिंग दी जाएगी, ताकि वो पंजाब के अंदर सुरक्षा कायम कर सकें। अच्छे पुलिस अफसर को लगाया जाएगा और उसके काम में एमएलए की और राजनीतिक कोई दखलअंदाजी नहीं होगी। एफआईआर की कॉपी पुलिस स्टेशन के अंदर होगी, एमएलए के घर पर नहीं होगी। पुलिस वालों के कामकाज में दखलअंदाजी हम बंद करेंगे।

पंजाब में केवल बेइमान पुलिस वालों को अच्छी पोस्टिंग मिलती है, हम इन्हें बदलेंगे- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी कुंवर विजय प्रताप का उदाहरण देते हुए कहा कि ये पुलिस में आईजी थे। एक ईमानदार अधिकारी थे। बरगाड़ी कांड की इन्होंने जांच की, जिसमें इन्होंने बड़े-बड़े लोगों को दोषी पाया। लेकिन इनकी रिपोर्ट दबा दी गई। इनकी रिपोर्ट खारिज करा दी गई। आज इस पुलिस अफसर को ये लोग ईमानदारी से काम करने देते, तो फिर बड़े-बड़े लोग जेल में बैठे होते और दोबारा बेअदबी नहीं होती। ईमानदार पुलिसवालों को काम करने देंगे और उनके काम में दखलअंदाजी नहीं करेंगे। पंजाब पुलिस बहुत अच्छी और उसके अंदर बहुत अच्छे-अच्छे पुलिस अफसर भी हैं, लेकिन उनको काम नहीं करने देते हैं, उनको साइट में बैठा कर रखते हैं। केवल बेइमानों को अच्छी पोस्टिंग मिलती है। ये सभी बदलेंगे। दूसरा, पंजाब में अभी तक बेअदबी के जितने भी कांड हुए हैं और जितने बम ब्लास्ट के कांड हुए हैं, एक-एक कांड की समयबद्ध तरीके से जांच करा कर उनके उपर जो मास्टर माइंड बैठे हैं, उनको जेल में चक्की पिसवाएंगे, उनको ऐसी सजा दिलवाएंगे। किसी भी धर्म की बेअदबी नहीं होनी चाहिए। सिखों, गुरुग्रंथ साहब, हिंदुओं, मुसलमानों और क्रिश्चियन के ग्रंथों समेत किसी भी धर्म के ग्रंथों की बेअदबी नहीं होनी चाहिए। जिन्होंने बेअदबी की है, उनको ऐसी सजा दिलवाएंगे कि दोबारा कोई हिम्मत नहीं करेगा।

पंजाब में फौज, बीएसए और पुलिस को सबसे आत्याधुनिक तकनीक से लैस करेंगे- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने गारंटी के तहत तीसरे कदम के बारे में कहा कि हम बॉर्डर का एक-एक इंच की सुरक्षा करेंगे, ताकि वहां से कोई आतंकवादी न आ सके और पाकिस्तान से एक ग्राम भी नशे का सामान इधर नहीं आने देंगे। चौथा, मैं कुछ अफसरों से बात कर रहा है। आज कल पाकिस्तान की तरफ से ड्रोन बहुत आने लग गया है। इसके लिए सबसे आत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करेंगे, ताकि हमारी फौजें, बीएसए और पुलिस के पास साधनों की कमी नहीं होनी चाहिए, ताकि वे उन्हें मार गिराएं। पांचवां, जितने भी गुरुद्वारे, मंदिर, मस्जिद, चर्च और डेरे हैं, हर एक की सुरक्षा करने के लिए अलग से पुलिस फोर्स बनाई जाएगी, ताकि दोबारा कोई बेअदबी का कांड न हो। हम पंजाब के अंदर शांति, सुरक्षा और भाई-चारे का माहौल कायम करने के लिए यह पांच कदम उठाएंगे। इसकी आज मैं पंजाब के लोगों को आश्वासन और गारंटी देकर जा रहा हूं कि आम आदमी पार्टी की जो सरकार होगी, वह ईमानदार, सशक्त होगी और पंजाब के अंदर शांति का माहौल कायम करेगी।

कांग्रेस ने सरकार बनने पर पंजाब में एक महीने के अंदर नशा खत्म करने की कसम खाई थी, लेकिन नशा आज भी बिक रहा है- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 2017 के चुनाव में कांग्रेस के नेताओं गुटके की कसम खाई थी कि सरकार बनी, तो एक महीने के अंदर नशा खत्म कर दिया जाएगा। लेकिन पंजाब में अभी तक नशा खत्म नहीं हुआ, बल्कि और बढ़ गया है। हर पिंड के अंदर नशा आज भी बिक रहा है। घर-घर के अंदर नशा है। हमारे युवा, हमारे बच्चे कुछ कनाडा चले गए और जो बच गए हैं, वो बेचारे नशे के अंदर डूब गए। आज पंजाब का युवा संकट में है। इनका क्या होगा? पांच साल बाद अब जब दोबारा चुनाव आए हैं, तो इन्होंने मजिठिया के एक पर्चा दाखिल कर दिया। इनको एक पर्चा दाखिल करने में पांच साल लग गए और बब्बर शेर की तरह सिद्धू साहब और चन्नी साहब चिल्ला रहे हैं कि हमने पर्चा कर दिया। क्या एक पर्चा करने से पिंडों में ड्रग्स खत्म हो गई। नशा तो वैसे ही बिक रहा है। ये लोग जनता के साथ गंदी राजनीति कर रहे हैं, नौटंकी कर रहे हैं। इसका मतलब है कि इनका मकसद नशा दूर करना नहीं है, इनका मकसद चुनाव में दोबारा वोट बटोरना है। पूरे पंजाब में नशा फैला हुआ है। हर पिंड में नशा फैला हुआ है। इसका मतलब है कि नशा बेचने वाले बड़े-बड़े डीलर बैठे हुए हैं। हर जिले और हर हल्के में बैठे हुए हैं, उनको कौन पकड़ेगा। ये उनको नहीं पकड़ रहे हैं। पूरे पंजाब के अंदर नशे का कितना स्टॉक पड़ा है, लेकिन इन्होंने एक ग्राम भी नहीं पकड़ी है। एक फर्जी पर्चा करके ये नौटंकी कर रहे हैं और बब्बर शेर बने फिर रहे हैं। मैं आपसे मात्र छह महीने मांग रहा हूं। आम आदमी पार्टी की सरकार आएगी, हम छह महीने के अंदर पंजाब के अंदर से नशा खत्म कर देंगे। हमारे पास कुंवर विजय प्रताप जैसे ईमानदार जाबांज पुलिस अफसर हैं। हमें करना आता है। हमारी नीयत साफ है, इनकी तरफ नौटंकी सरकार नहीं हम लोग चला रहे हैं।

पंजाब के लोगों से अपील, अगर अच्छे स्कूल चाहिए, तो आम आदमी पार्टी को वोट दें- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सरकारी स्कूल शानदार और बहुत अच्छे हो गए हैं। जब हमारी दिल्ली में सरकार बनी थी, तब ये सरकारी स्कूल बहुत खराब हुआ करते थे। दीवारें टूटी पड़ी थी, छत टूटी पड़ी, डेस्क नहीं थे, बच्चे और टीचर आते नहीं थे। इसलिए कोई माता-पिता अपने बच्चों को सरकारी स्कूल में भेजने को राजी नहीं था। आज पांच के अंदर वही सरकारी स्कूल बहुत शानदार हो गए। हमने सारे सरकारी स्कूलों की बिल्डिंग तोड़कर नई बिल्डिंग बना दी। सरकारी स्कूलों में स्वीमिंग पूल बना दिए। इस साल दिल्ली के सरकारी स्कूलों के नतीजे 99.7 फीसद आए हैं। भारत के इतिहास में 99.7 फीसद नजीते सरकारी स्कूलों के नहीं सुना होगा। इस साल ढाई लाख बच्चों ने प्राइवेट स्कूलों ने अपना नाम कटवा कर सरकारी स्कूलों में एडमिशन लिया है। पंजाब के सरकारी स्कूल भी दिल्ली की तरह शानदार होने चाहिए। चन्नी साहब का कहना है कि पंजाब में विश्व स्तरीय स्कूल हैं। इसका मतलब यह है कि सरकारी स्कूलों को अच्छा करने की उनकी कोई इच्छा नहीं है और उनकी दोबारा सरकार आई, तो सरकारी स्कूल ऐसे ही रहेंगे। अगर अच्छे स्कूल चाहिए, तो आम आदमी पार्टी को वोट दो और अगर खराब स्कूल चाहिए, तो कांग्रेस को वोट दे देना। मर्जी आपकी है।

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में व्यवस्था बदलने का सारा श्रेय हमारे शिक्षकों और प्रिंसिपल को जाता है- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने स्पष्ट करते हुए कहा कि दिल्ली के जो सरकारी स्कूल अच्छे हुए हैं, वो केजरीवाल ने नहीं किए, मैंने तो वश माहौल दिया था। हमारे दिल्ली के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों ने सारी व्यवस्था बदली है। इसका सारा श्रेय हमारे शिक्षकों और प्रिंसिपल को जाता है। पंजाब के शिक्षक भी बहुत अच्छे हैं। वे भी शिक्षा व्यवस्था बदलना चाहते हैं। लेकिन माहौल खराब है। आम आदमी पार्टी की सरकार आएगी, हम दिल्ली जैसा माहौल देंगे और यही शिक्षक आपको पंजाब के स्कूल शानदार करके दिखाएंगे। पिछले साल अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रम्प साहब अपनी पत्नी और बेटी के साथ मोदी जी से मिलने आए थे। उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प दिल्ली सरकार का स्कूल देखने आईं। यानि की दिल्ली के सरकारी स्कूलों की चर्चे अमेरिका में राष्ट्रपति के घर तक पहुंच गए। मेलानिया ट्रम्प पूरी दुनिया किसी के स्कूल देखने नहीं गईं, लेकिन दिल्ली के स्कूल देखने आईं थीं। जब उन्होंने दिल्ली सरकार के स्कूल देखने की बात ही, तो मोदी ने उनको बहुत समझाया। मोदी जी थोड़ा सा मेरे को पसंद नहीं करते हैं। उन्होंने उनको बहुत समझाया कि आप केंद्र सरकार के स्कूल देख लो, उन्होंने मना कर दिया। प्राइवेट स्कूल को भी देखने से इन्कार कर दिया और वो दिल्ली सरकार के स्कूल देखने के लिए आईं। हम पंजाब के स्कूल ऐसे बना देंगे कि अगली बार किसी देश को जो भी राष्ट्रपति आएगा, वो पंजाब के स्कूल देखने आएगा।

हमारी सरकार दिल्ली की तरह पंजाब के लोगों को भी मुफ्त इलाज की सुविधा देगी- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हमने खूब सारे मोहल्ला क्लीनिक बनाए हैं। दिल्ली के सारे सरकारी अस्पताल हमने शानदार कर दिए। दिल्ली में पहले अस्पतालों की बहुत बुरी हालत थी। डॉक्टर आते नहीं थे, दवाइयां नहीं मिलती थीं, एक्सरे और सिटी स्कैन मशीनें खराब रहती थीं। दिल्ली के सारे अस्पताल हमने प्राइवेट अस्पतालों से भी ज्यादा अच्छे कर दिए हैं। हमने दिल्ली के लोगों को एक सुरक्षा चक्र दिया है। आज कल इलाज कराना इतना महंगा हो गया है कि घर में कोई बीमार हो जाए और आप प्राइवेट अस्पताल में चले जाओ, तो दो-तीन लाख रुपए यूं ही चले जाते हैं। हमने हर दिल्ली वाले का पूरा इलाज मुफ्त कर दिया है। उसे कोई बड़ी बीमार हो जाए और उसके ऑपरेशन का खर्च 70-80 लाख रुपए का भी आएगा, तो सारा खर्चा दिल्ली सरकार देती है, आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। पंजाब के अंदर भी ऐसा होना चाहिए। हमारी सरकार बनेगी, तो दिल्ली की तरह ही हम पंजाब के लोगों को भी सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा देंगे। चन्नी साहब कहते हैं कि केजरीवाल सबकुछ मुफ्त दे रहा है और पैसे लुटाता है। मैं पूछना चाहता हूं कि हमारे बच्चों को अच्छी शिक्षा और हमारे लोगों को मुफ्त में अच्छा इलाज मिलना चाहिए या नहीं। अगर कोई सरकार अपने लोगों को अच्छी शिक्षा नहीं दे सकती, अपने लोगों का अच्छा इलाज नहीं करा सकती है, तो ऐसी सरकार के उपर लानत है। फिर पैसा किस लिए है। तुम्हारे हवाई जहाज, एसी बंगले के लिए पैसा है। जनता टैक्स इसीलिए तो देती है, उसे अच्छी सुविधाएं मिलेंगी। अगर हम अच्छी शिक्षा, अच्छा स्वास्थ्य नहीं दे सकते और अच्छा अस्पताल नहीं बना सकते हैं, तो हमारे उपर लानत है।

दिल्ली की तरह पंजाब में भी 24 घंटे और फ्री बिजली देंगे- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में जब हमारी सरकार बनी, तो उस दौरान सात-आठ घंटे तक बिजली जाया करती थी। एक-एक गली में जाकर मैंने तार बदलवाए, ट्रांसफार्मर बदलवाए, आज दिल्ली में 24 घंटे बिजली आती है। पंजाब में भी लंबे-लंबे पावर कट लगते हैं। जैसे दिल्ली में हमने 24 घंटे बिजली की, वैसे ही पंजाब में भी 24 घंटे बिजली करेंगे। दिल्ली में बिजली के बिल 5-5 हजार, 10-10 हजार आया करते थे, आज दिल्ली में बिजली मिलती है। मुफ्त का मतलब कि लोगों का जीरो बिल आता है। दिल्ली में 24 घंटे बिजली आती है और जीरो बिल आता है, यह एक चमत्कार है। दिल्ली की तरह ही पंजाब में भी 24 घंटे बिजली आएगी और जीरो बिल आया करेंगे। साथ ही हम सारे पुराने बिल माफ कर देंगे। चन्नी साहब कह रहे हैं कि केजरीवाल खजाना लूटा रहा है, ऐसे मुफ्त बिजली नहीं देने चाहिए। मैं चन्नी साहब को हर महीने 5 हजार यूनिट बिजली मुफ्त मिलती है। चन्नी साहब को बिजली मुफ्त मिले, तो ठीक है, लेकिन जनता को 300 यूनिट मिल जाए, तो आपको मिर्ची लगती है। मैंने कसम खाई है, जो-जो चीजें इन नेताआंें को मुफ्त मिलती है, वो सारी जनता को मुफ्त दिलवाउंगा। हम इस देश के हर आम आदमी को खास आदमी बनाएंगे।

पंजाब को तय करना है कि उसे गिल्ली-डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए या स्कूल-अस्पताल बनाने वाली सरकार चाहिए- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने 18 साल से उपर की हर महिला को एक-एक हजार रुपए देने की गारंटी दी है। पंजाब का एक नेता कहता है कि महिलाओं को हजार-हजार रुपए दिए तो महिलाएं बिगड़ जाएंगी। उसने खजाने से हजारों करोड़ रुपए डकार लिए, तो तुम नहीं बिगड़े, हमारी महिलाएं हजार रुपए देने से बिगड़ जाएंगी। वो बोले कि सरकार का खजाना खाली हो जाएगा। खजाना तो खाली तुमने किया है, तुम सारा खा गए। बड़े-बड़े नेताओं ने होटल बना लिए, जमीनें खरीद ली, प्रॉपर्टी खरीद ली, इन नेताओं ने इतने पैसे कमा लिए कि इनकी सात-सात पीढ़ियां घर बैठ कर खा सकती हैं। पंजाब का खजाना तुमने लूटा है, मां-बहनों को हजार-हजार रुपए मिलेंगे, तो बरकत होगी और उनका आशीर्वाद मिलेगा। आजकल चन्नी साहब मेरे साथ प्रतियोगिता कर रहे हैं। वे कहते हैं कि केजरीवाल आम आदमी नहीं है। मैं आम आदमी हूं। मेरे को गिल्ली डंडा खेलने आता है, केजवाल को आता है क्या? एक इंटरव्यू में वे बोले कि मेरे को कंचे खेलने आते हैं, केजरीवाल को आते हैं क्या? मेरे को गाय का दूध निकालना आता है, केजरीवाल को आता है क्या? मैं उनसे कहना चाहता हूं कि मेरे को गिल्ली डंडा खेलने नहीं आता है, मेरे को स्कूल बनवाने आते हैं। मेरे को कंचे खेलने नहीं आते, मेरे को अस्पताल बनवाने आते हैं। मेरे को गाय का दूध निकालना नहीं आता है, मेरे को जनता को 24 घंटे और फ्री बिजली देनी आती है। अब पंजाब की जनता तय कर लें कि उनको गिल्ली डंडा खेलने वाली सरकार चाहिए या स्कूल-अस्पताल बनाने वाली सरकार चाहिए। अब कांग्रेस पार्टी बिल्कुल बिखर गई है और सारे एक-दूसरे से लड़ रहे हैं। एक तरह से सर्कस बन गई है। मैं आप से विनती कर रहा हूं कि 25 साल आपने कांग्रेस को दिए, 19 साल आपने बादलों ने राज किया, इन्होंने पंजाब को बर्बाद कर दिया। आपसे मैं सिर्फ 5 साल मांग रहा हूं। मेरे को पांच साल दे दो, अगर पांच साल में काम नहीं किया, तो अगली बार लात मार कर भगा देना, मैं अगली बार वोट मांगने नहीं आउंगा।

पंजाब के लोग धर्म-जाति से उपर उठकर एक मुट्ठी की तरह रहते हैं- अरविंद केजरीवाल

वहीं, क्रिसमस के मौके पर धारीवाल में एक आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यहां बड़ी संख्या में हिंदू और सिख हैं, कुछ मुस्लिम भाई भी हैं, किश्चियन भाई भी हैं। यही पंजाब की खूबसूरती हैै, जहां सभी धर्मों और जातियों के बीच भाई-चारा है और पंजाब के तीन करोड़ पंजाबी धर्म-जाति से उपर उठकर एक मुट्ठी की तरह पंजाब में रहते हैं। इसी भाई-चारे और एकता से इन लोगों को डर लगता है। अभी आप लोगों ने जबरदस्त एकता दिखाई, जब किसानों के खिलाफ तीन काले कानून लागू हुए। पंजाब के लोगों ने उस आंदोलन की अगुआई की, तो सारा देश खड़ा हो गया। जब सारा देश खड़ा हो गया, तो सरकार को झुकना पड़ा और तीनों काले कानून वापस लेने पड़े। इन सभी लोगों को इस एकता और भाई-चारे से डर लगता है।

सभी धर्म गरीबों की सेवा करने की बात कहते हैं, हम दिल्ली में वहीं करने की कोशिश कर रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ईसा मसीह के जीवन से काफी प्रेरणा मिलती है। जब मैं कॉलेज में पढ़ता था। कॉलेज से निकलने के बाद कुछ समय तक टाटा स्टील में नौकरी की। उसके बाद मैं नौकरी छोड़कर मदर टेरेसा के यहां काम करने चला गया। कोलकाता के काली घाट में मदर टेरेसा का एक आश्रम था, जहां मैंने कई महीने काम किया। कोलकाता में गरीब बहुत ज्यादा है, तो कई भिखारी सड़क के किनारे पड़े रहते हैं। उनके शरीर पर बड़े-बड़े घाव होते हैं, उनके अंदर कीड़े-मकोड़े चल रहे होते हैं। ऐसे लोगों को हम उठाकर लाते थे और उनकी सेवा करते थे। उस वक्त यह पता चला कि गरीबों की सेवा करने से मन के अंदर कितना आनंद मिलता है। ईसा मसीह के पूरे जीवन से यही सीखने को मिलता है। उन्होंने पूरा जीवन गरीब से गरीब लोगों की निःस्वार्थ भाव से सेवा की। लोगों उनको खूब गालियां दीं, लेकिन उन्होंने सबको माफ कर दिया। उनके अंतिम समय में जब कुछ लोग उनके हाथ और पैरों मे कीलें ठोंक रहे हैं, उस वक्त उनके मन में उन लोगों के लिए प्यार छलक रहा था। वो प्रभु से प्रार्थना करते हैं कि हे! प्रभु इनको माफ कर दें, इनको नहीं पता कि ये क्या कर रहे हैं। सभी धर्म निःस्वार्थ भाव से गरीबों की सेवा करने की बात कहते हैं। हम दिल्ली में वहीं करने की कोशिश कर रहे हैं। हम अपनी सरकार सभी धर्मों के हिसाब से चला रहे हैं। हम बेइमानी नहीं करते हैं, ईमानदारी से सरकार चला रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...