1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी सरकार बड़ा फैसला, कृष्ण जन्मस्थल के 10 km का इलाका तीर्थस्थल घोषित, मांस और शराब बेचने पर प्रतिबंध

योगी सरकार बड़ा फैसला, कृष्ण जन्मस्थल के 10 km का इलाका तीर्थस्थल घोषित, मांस और शराब बेचने पर प्रतिबंध

मथुरा में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर मथुरा पहुंचे थे। यहां सीएम योगी ने मथुरा, वृंदावन, गोवर्धन, नन्दलगांव, बरसाना, गोकुल, महावन और बलदेव में मांस और शराब की बिक्री पर पूरी तरह पाबंदी लगाने का ऐलान किया था।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

लखनऊ: योगी सरकार ने शुक्रवार 10 सितंबर को भगवान श्रीकृष्ण की जन्मस्थली मथुरा-वृंदावन के 10 किलोमीटर के क्षेत्र को तीर्थ स्थल घोषित किया है। साथ ही शराब और मांस की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार ने मथुरा-वृंदावन के इलाके के कुल 22 नगर निगम वार्ड, क्षेत्र को तीर्थ स्थल के रूप में घोषित किया है।

आपको बता दें कि मथुरा में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर मथुरा पहुंचे थे। यहां सीएम योगी ने मथुरा, वृंदावन, गोवर्धन, नन्दलगांव, बरसाना, गोकुल, महावन और बलदेव में मांस और शराब की बिक्री पर पूरी तरह पाबंदी लगाने का ऐलान किया था। वहीं सीएम योगी ने कहा था कि जो लोग मांस-मदिरा बेचने के काम में लगे हुए हैं, उनको पुनर्वास के रूप में दूध बेचने जैसे कामों में लगाया जा सकता है।

श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के दौरान सीएम योगी ने कहा था कि पहले त्योहार में बधाई देने के लिए विधायक, मुख्यमंत्री यहां नहीं आते थे और जो पहले मंदिरों में जाने से डरते थे, वे अब कह रहे हैं कि राम मेरे हैं, कृष्ण भी मेरे हैं।

आपको बता दें कि यूपी में तीर्थस्थलों के विकास का काम चल रहा है। अयोध्या, वाराणसी, मथुरा आदि में सुविधाएं पहले की मुकाबले बेहतर हो रही हैं। अयोध्या में डेढ़ साल पहले आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राम मंदिर का निर्माण कार्य तेजी से जारी है। माना जा रहा है कि साल 2024 से पहले तक अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण पूरा हो जाएगा।

वहीं पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी पीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट्स में से एक काशी विश्वनाथ कॉरिडोर पर भी काम चल रहा है। इसके भी जल्द पूरा होने की उम्मीद है। कॉरिडोर के पूरा होने की वजह से मंदिर और उसके आसपास का इलाका और भी भव्य हो जाएगा और भक्त बिना किसी दिक्कत के आसानी से मंदिर में बाबा विश्वनाथ के दर्शन कर सकेंगे।

इन सबके साथ ही सीएम योगी ने राज्य में सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का भी आदेश दिया है। उन्होंने सभी संबंधित विभागों को गड्ढों को भरना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। इसके लिए 20 सितंबर से 20 नवंबर के बीच ड्राइव भी चलाई जाएगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...