1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सामूहिक आयोजनों पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सामूहिक आयोजनों पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सामूहिक आयोजनों पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया

राष्ट्रीय राजधानी में हाहाकार मचा रहे कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सामूहिक आयोजनों पर पाबंदी लगाने का फैसला किया है। गृह विभाग की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि शादी-समारोहों में 100 से अधिक लोग शामिल न हों। शादी में बुजुर्ग और बीमार शख्स को आमंत्रित नहीं किया जाएगा। इसके अलावा शादी में बैंड और डीजे पर रोक रहेगी।

प्रदेश सरकार द्वारा 1 अक्टूबर को अनलॉक की जो गाइडलाइन जारी की गई, उससे ऐसा लगने लगा था कि अब कोरोना संक्रमण खत्म हो रहा है। लेकिन महीनों से लगे प्रतिबंध में ढील देते हुए 15 अक्टूबर से शादी और अन्य सामूहिक समारोहों में 100 से बढ़ाकर अधिकतम 200 लोगों के शामिल होने की परमिशन सरकार ने दी थी।

अभी महज 37 दिन ही हुए थे कि उस रियायत पर भी संकट मंडराने लगा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद मुख्य सचिव आरके तिवारी ने कोरोना वायरस को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है। शादी समारोहों में अब फिर से सौ लोगों के शामिल होने की सीमा तय कर दी गई है।

गाइडलाइंस के मुतबिकक अगर मैरिज हाउस की क्षमता 100 की है तो वहां आयोजित होने वाले कार्यक्रम में सिर्फ चालीस लोग ही शामिल होंगे। इसी प्रकार यदि लॉन की क्षमता के चालीस फीसद ही लोग समारोह में शामिल हो सकेंगे। इस नए नियम के उल्लंघन पर मुकदमा होगा।

शादी में बुजुर्ग, बीमार को आमंत्रित नहीं किया जाएगा। कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर धारा 144 और 188 के तहत कार्रवाई होगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...