Home उत्तर प्रदेश लखनऊ से योगी सरकार रखेगी मुख्तार अंसारी पर पैनी नजर, अंसारी के 200 से ज्य़ादा गुर्गों ने बांदा में जमाया डेरा!

लखनऊ से योगी सरकार रखेगी मुख्तार अंसारी पर पैनी नजर, अंसारी के 200 से ज्य़ादा गुर्गों ने बांदा में जमाया डेरा!

1 min read
0
27

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

लखनऊ: पूर्वांचल का माफिया मुख्तार अंसारी बीती रात सकुशल यूपी के बांदा जेल पहुंचाया गया। मुख्तार को बांदा जेल के बैरक नंबर 15 में रखा जायेगा। मुख्तार का बैरक नंबर 15 से पुराना नाता है, इससे पहले भी जब उसको गिरफ्तार किया गया था, तो उसको बैरक नंबर 15 में ही रखा गया था। मिली जानकारी के मुताबिक बैरक नंबर 15 तन्हाई सेल है। इसका मतलब यह हुआ कि मुख्तार के साथ कोई और कैदी नहीं रहेगा।

आपको बता दें कि मुख्तार अंसारी भले ही बांदा जेल में रहेगा, लेकिन उसकी निगरानी राजधानी लखनऊ से की जायेगी। अंसारी की निगरानी के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की  भी मदद ली जाएगी। इतना ही नहीं पुलिस ने काफी कड़े इंतजाम किये हैं। कैमरा फीड में कोई भी गतिविधि होने पर अलर्ट जारी हो जायेगा।

मुख्तार अंसरी की मॉनिटरिंग DG जेल के पास रहेगी। मुख्तार का नया ठिकाना बैरक नंबर 15 CCTV  कैमरों से लैस रहेगा। यूपी की योगी सरकार मुख्तार की सुरक्षा में कोई कोताही नहीं बरतना चाह रही है। इसके लिए पुलिस ने चेकिंग अभियान भी शुरु कर दिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक मुख्तार के पहुंचने से पहले ही उसके सहयोगी एक बार फिर शहर में अपना डेरा डाल चुके हैं। बांदा में अब माफिया मुख्तार अंसारी के करीबी 200  से ज्यादा गुर्गों का नया ठिकाना बन गया है। जिससे जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। चित्रकूट के आईजी सत्यनारायण ने शहर में किराए पर रह रहे लोगों का वेरिफिकेशन कराने का फैसला लिया है।

कहा जाता है कि इससे पहले जब बांदा जेल में बंद था तो वह जेल का खाना नहीं खाता था। उसके लिए बाहर से खाना मंगवाया जाता था। अब जब वह दोबारा बांदा जेल आया है, तो खबर है कि उसके गुर्गे भी बांदा में डेरा जमा चुके हैं। इसी को देखते हुए बांदा जेल की निगरानी राजधानी लखनऊ से की जायेगी।

यूपी के जेल मंत्री ने कहा कि “वहां की सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी के लिए राज्य भर की सभी जेलों में सीसीटीवी कैमरे आदि लगाए गए हैं। उसे जेल मैनुअल के अनुसार ही जेल में रहना होगा। मुकदमे के अनुसार उन्हें मुकदमे का सामना करना पड़ेगा, सरकार की कोई भूमिका नहीं है”।

 

 

 

 

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.