1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. सोते वक्त पति-पत्नी और 3 बच्चों डंपर ने रौंदा, चीखते रहे मासूम को कोई नहीं था बचाने वाला…मौत

सोते वक्त पति-पत्नी और 3 बच्चों डंपर ने रौंदा, चीखते रहे मासूम को कोई नहीं था बचाने वाला…मौत

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: राजस्थान के झालवाड़ से सड़क हादसे का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे जानकर आपकी भी रुह कांप जायेगी। यहां एक ही परिवार के पांच लोगो की मौत हो गई। मरने वालों में पति-पत्नी और तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। दिल दहला देने वाला हादसा उस वक्त हुआ जब जब परिवार सड़क किनारे बने झोपड़ी में था। आचानक डंपर ने पलभर में सबकुछ रौंद दिया। गनीमत रही कि दूसरी जगह सो रहे दो बच्चे बाल-बाल बच गए।

आपको बता दें कि  यह भीषण हादसा जिले के मंडावर थाना क्षेत्र में बुधवार देर रात हुआ। जहां एक दिहाड़ी मजदूरी करके पेट पालने वाला परिवार सड़क किनारे झोपड़ी में रहता था। इसी दौरान तेज रफ्तार में एक डंपर आया और गहरी नींद में सो रहे पूरे परिवार को रौंद दिया। इसके बाद आरोपी चालक फरार हो गया। मासूम बच्चे और पति-पत्नी को चीखते-चिल्लाते रहे लोकिन कोई मदद के लिए नहीं पहुंचा।  

हादसे की जानकारी जैसे ही पुलिस को लगी, पुलिस मौके पर पहुंच गई। इसके बाद पांचों शवों को बरामद कर मोर्चरी में रखवाया। मृतकों की पहचान सुरेश व उसकी पत्नी सीताबाई (40) ,उनके तीन बच्चे पवन (7),कमलेश (5) और निर्मला (11) के रूप में हुई। मंडावर थाना हैड कांस्टेबल ब्रजराज सिंह ने बताया कि मृतक सुरेश घाटोली का रहने वाला था। मजदूरी करके परिवार पालता था। घर नहीं होने की वजह से वह सड़क किनारे बनी टपरी में रह रहा था।

पुलिस ने आगे बताया कि मृतक के दो बच्चे दुर्गेश (13) व बाबूलाल (6) दूसरी जगह सो रहे थे। जिसकी वजह से उनकी जान बच गई, अगर पास में होते तो शायद वह भी जिंदा नहीं होते। आरोपी डंपर चालक की पहचान महावीर भील के रूप में हुई है। वह डंपर छोड़कर मौके से फरार हो गया। पुलिस आरोपी डंपर चालक की तलाश में जुटी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads