Home उत्तर प्रदेश बनारस में घर के बाहर खेल रहे चार साल के बच्चे काे किया किडनैप, रेलवे क्राॅसिंग पर कार रूकी तो कूद कर भागा बच्चा

बनारस में घर के बाहर खेल रहे चार साल के बच्चे काे किया किडनैप, रेलवे क्राॅसिंग पर कार रूकी तो कूद कर भागा बच्चा

0 second read
0
0

बलिया(रेवती ): वाराणसी से अपह्रत कक्षा चार का छात्र आजम उर्फ सलमान बलिया के पास बदमाशों के चंगुल से भाग निकला। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस बच्चे को अपने साथ थाने ले गयी। पूछताछ के बाद परिजनों को सूचना देकर बुलाया और उनके हवाले कर दिया।

रेवती पुलिस के अनुसार मूल रूप से जौनपुर के जलालपुर थाना क्षेत्र के उदपुर निवासी सफी अहमद वाराणसी के टकटकपुर, पांडेपुर में रहते हैं। उनका बेटा आजम खां उर्फ सलमान सिटी कांवेंट स्कूल में कक्षा चार का छात्र है। सोमवार की सुबह करीब छह बजे सलमान घर के पास ही खेल रहा था। इसी बीच स्कार्पियो सवार उसे उठाकर साथ लेकर चल दिये। गाड़ी बैरिया थाना क्षेत्र के सुरेमनपुर के पास स्थित रेलवे क्रासिंग के बंद होने से रुक गयी। इस बीच मौका पाकर सलमान गाड़ी से नीचे उतरकर शोर मचाने लगा। पकड़े जाने के भय से स्कार्पियो सवार फरार हो गये। सलमान घुमते हुए रेवती थाना क्षेत्र के श्रीनगर गांव के पास पहुंच गया। अकेले अनजान बालक को देख लोगों ने उससे बातचीत की और पुलिस को इस बारे में बताया। जानकारी होते ही पहुंचे एसओ रेवती प्रवीण सिंह बालक को लेकर थाने पहुंचे और पूछताछ के बाद परिजनों को अवगत कराया। सूचना पर पहुंचे पिता के हवाले कर दिया गया।

मोबाइल पर बात करने में व्यस्त हुए तो गाड़ी का गेट खोलकर भागा

अपहृत बालक आजम के अनुसार घर से कुछ ही दूर आगे निकला था। तभी सफेद रंग की गाड़ी आयी। उसमें चालक समेत तीन लोग बैठे थे। उन लोगों ने मुझे खींचकर जबरदस्ती गाड़ी में बैठा लिया। दिनभर गाड़ी चलती रही। रेलवे क्रासिंग पर फाटक बन्द होने के कारण गाड़ी रूकी। आजम के अनुसार गाड़ी में बैठे लोग मेरा हाथ छोड़कर मोबाइल पर बात करने में व्यस्त हो गए। इसी बीच गाड़ी का दरवाजा खोलकर नीचे उतरकर शोर मचाने लगा। भागते-भागते श्रीनगर गांव में पहुंचा, जहां ग्रामीणों ने मुझसे पूछताछ कर पुलिस को सूचित किया।एसओ प्रवीण सिंह ने बताया कि बच्चे से पूछताछ के आधार पर जौनपुर के पराउगंज पुलिस चौकी को सूचित किया। वहां की पुलिस से सूचना मिलने के बाद मंगलवार की सुबह बालक के पिता थाना रेवती पहुंचे। जहां आपरेशन मुस्कान के तहत आवश्यक कार्यवाही कर बच्चे को उसके पिता के हवाले कर दिया गया।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.