1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. पाकिस्तान में मची खलबली , परेशान पीएम इमरान खान ने सेना को बुलाया

पाकिस्तान में मची खलबली , परेशान पीएम इमरान खान ने सेना को बुलाया

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट – माया सिंह

पाकिस्तान :  भारत के बाद अब पाकिस्तान में भी कोरोना वायरस अपना भयावह रूप दिखाने लगा है । पाकिस्तान में भी रोजाना कोरोना मरीजों की तदाद बढ़ते ही जा रही है । हालात इतनी बिगड़ गई है कि भारत के तरह ही पाक के अस्पतालों में भी बेड और ऑक्सीजन की किल्लत हो गई है । स्थिती का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि इस्लामाबाद स्थित पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में ऑक्सीजन की कमी होने के कारण सर्जरी रोक दी गई है ।

जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान में शुक्रवार को 5, 870 नये मामले सामने आये हैं जबकि 144 कोरोना संक्रमित लोगों की मौत हो गई । 23 अप्रैल 2021 तक के आंकड़ों  की बात करें तो पाकिस्तान में कोरोना संक्रमितों की संख्या 784,108 हो चुकी है जबकि अब तक 16,842 लोगों की मौत हो चुकी है ।

वहीं पाकिस्तान का पॉजिटिविटी रेट 10.91फीसदी है । कोरोना मरीजों का नया आंकड़ा सामने आने के बाद पाकिस्तान में तनाव का माहौल बना हुआ है  । लोग फिर से कोरोना वायरस की दहशत में जीने लगे हैं । हालात को देखते हुये पीएम इमरान खान  ने अपने देशवासियों को हाल ही में संबोधित किया है ।

इस संबोधन में पीएम इमरान ने अपने देशवासियों कोविड -19 के नियमों को सख्ती से पालन करने के लिये आग्रह किया है और साथ ही  सेना और पुलिस से सोशल डिस्टेंसिंग के दिशानिर्देश को लागू करने के लिये कहा । इसके अलावा जानकारी दी है कि अगर भारत जैसी खराब स्थिती बनती है तो फिर से लॉकडाउन लगाया जा सकता है , ताकि कोरोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके ।

बता दें कि इमरान खान खुद पिछले महिना कोरोना वायरस के चपेट में आ गये थे । अब उन्होने कहा है कि नियमित तौर पर मास्क लगाने लगेंगे तो शायद लॉकडाउन की जरूरत नहीं पड़ेगी ।

पीएम इमरान खान ने कहा कि सरकार अब शहरों को बंद करना नहीं चाहती है क्योंकि इसका असर सबसे ज्यादा गरीबों पर होती है लेकिन अगर स्थिति भारत जैसी हुई तो मजबूरन ऐसा करना पड़ेगा । फिलहाल , पाकिस्तान के उन जिलों में माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक स्कूलों को बंद कर दिया गया है जहां कोरोना की पॉजिटिविटी रेट 5 प्रतिशत से अधिक थी ।

इस दौरान चल रहे रामज़ान को लेकर कहा है कि पिछले बार की तरह ही इस बार भी कोविड निर्देशों के तहत ही मनायें । हम देख रहें है कि बार-बार अपील करने के बावजूद लोग लापरवाही कर रहे हैं ।

इसके साथ ही देशवासियों को भरोसा दिलाते हुये कहा कि सरकार कोरोना वैक्सीन की खरीद के लिए सभी प्रयास कर रही है । उन्होंने बताया , “हमने चीन से पूछा है, लेकिन उनकी मांग भी काफी है । बाकी दुनिया में भी इसकी कमी हो गयी है ।

प्रधानमंत्री इमरान के भाषण खत्म होते ही सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने ट्वीट करके बताया कि सेना को प्रमुख शहरों में बुलाया गया था । उन्होंने कहा, “बिगड़ते कोरोना वायरस की स्थिति के कारण, प्रधानमंत्री ने सेना बुलाया है ताकि एसओपी का पालन अच्छे से हो सके। ” चौधरी ने यह भी कहा कि देश अपनी ऑक्सीजन क्षमता का 90 प्रतिशत इस्तेमाल कर रहा था और अब एहतियात बरतने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं है ।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...