Home kolkata चुनाव परिणाम से पहले ही घबराई TMC, ईवीएम को ले गये अपने घर !, बीजेपी ने लगाया गड़बड़ी का आरोप

चुनाव परिणाम से पहले ही घबराई TMC, ईवीएम को ले गये अपने घर !, बीजेपी ने लगाया गड़बड़ी का आरोप

1 second read
0
124

नई दिल्ली : पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान आज पश्चिम बंगाल में शुरू हो गया है, जो कुल 31 सीटों पर मतदान होने है। मतदान के शुरू होते ही भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है। टीएमसी ने जहां बीजेपी कार्यकर्ताओं पर वोटरों को परेशान करने का आरोप लगाया है, तो वही बीजेपी नेता ने टीएमसी पर चुनाव में गड़बड़ी करने का आरोप लगाया है।

दरअसल उलूबेरिया उत्तर से बीजेपी उम्मीदवार चिरन बेरा ने आरोप लगाया है कि मतदान से पहले की रात टीएमसी नेता गौतम घोष के घर से ईवीएम और वीवीपैट की मशीनें मिली हैं। बीजेपी नेता ने टीएमसी पर चुनाव में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। देर रात को ही यहां माहौल बिगड़ने के कारण सुरक्षाबलों को लाठीचार्ज करना पड़ा।

टीएमसी नेता के घर के पास ईवीएम मिलने के बाद चुनाव आयोग ने बड़ा एक्शन लेते हुए एक सेक्टर ऑफिसर को सस्पेंड कर दिया है। चुनाव आयोग का कहना है कि ये एक रिजर्व ईवीएम था, जिसका वोटिंग में इस्तेमाल नहीं हो रहा था। आयोग ने कहा कि सेक्टर ऑफिसर तपन सरकार ईवीएम के साथ अपने रिश्तेदार के घर सोने गए थे, जो नियमों का उल्लंघन है।

आपको बता दें कि मंगलवार सुबह मतदान शुरू होने के बाद तृणमूल कांग्रेस ने कई जगह ईवीएम में गड़बड़ी, पोलिंग बूथ पर लोगों को ना जाने देने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही उन्होंने डायमंड हार्बर, उलूबेरिया उत्तर, आरमबाग, मागराघाट पश्चिम समेत अन्य विधानसभा सीटों के पोलिंग बूथ पर गड़बड़ी का आरोप लगाया है। टीएमसी का कहना है कि यहां सुरक्षाबल वोटरों को परेशान कर रहे हैं, इसके अलावा बीजेपी के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में पोलिंग बूथ के 100 मीटर एरिया में जुटे हैं।

वहीं बीजेपी ने आरोप लगाया है कि टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने राईदिघी विधानसभा में उनके पोस्टरों को फाड़ दिया है। इसके अलावा बंगाल में वोटिंग के बीच बीजेपी ने आरोप लगाया है कि राईदिघी के बूथ नंबर 189 में टीएमसी के कार्यकर्ता घुस गए हैं और वोटरों को परेशान कर रहे हैं।

गौरतलब है कि बंगाल में ये तीसरे चरण का मतदान है। अब से पहले के मतदान में भी टीएमसी और बीजेपी के बीच लगातार आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी रहा है। तीसरे चरण में कुल 31 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। जिसका परिणाम 2 मई को आना है। लेकिन जिस कदर तीसरे चरण के चुनाव में टीएमसी नेता के घर के बाहर इवीएम मशीन मिला है, उससे लोगों ने ये कहना शुरू कर दिया है कि पश्चिम बंगाल चुनाव परिणाम आने से पहले ही टीएमसी घबराई हुई है। उन्हें आशंका है कि कहीं उन्हें इस चुनाव में मुंह की खानी ना पड़े।

Load More In kolkata
Comments are closed.