1. हिन्दी समाचार
  2. आगरा
  3. आगरा से गायब डॉक्टर को बदमाशों ने चंबल के बीहड़ में लाकर बनाया था बंदी, आगरा व राजस्थान पुलिस की टीम ने किया सकुशल बरामद

आगरा से गायब डॉक्टर को बदमाशों ने चंबल के बीहड़ में लाकर बनाया था बंदी, आगरा व राजस्थान पुलिस की टीम ने किया सकुशल बरामद

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट:मनीष जैन/ सत्यम दुबे

आगरा: ताज नगरी आगरा से बीते मंगलवार की शाम को जिले के एक डॉक्टर उमाकांत गुप्ता का चार बदमाशों अपहरण कर लिया। जिससे जिले में सनसनी फैल गई। इधर, बदमाशों ने डॉक्टर उमाकांत को उन्ही की कार से धौलपुर जिले के दिहौली थाने के इलाके में आ गए। इसके बाद तीन बदमाश चम्बल के बीहड़ों से होते हुए डॉक्टर को चंबल पार कर एमपी में लेकर आ गए। वहीं एक बदमाश डॉक्टर की कार को लेकर धौलपुर आ गया, वो ऐसा इसलिए किया कि चंबल के बीहड़ों में कार नहीं चल सकती थी।

वहीं जब देर रात निहालगंज थाना की पुलिस को गश्त के दौरान आगरा की एक कार संदिग्धावस्था में मिली। गश्त कर रहे पुलिस वालों ने कार को रुकवाया और कार सहित बदमाश को पुलिस थाने लाए। इसके बाद जब पुलिस ने उस बदमाश से पूछताछ शुरु की तो उसने सारा सच उगल दिया। उसने पुलिस को बताया कि आगरा से एक डॉक्टर का अपहरण करके हम चार लोग ले गए हैं।

पूछताछ के बाद गश्त करने वाले सिपाहियों ने SP केसर सिंह शेखावत को मामले की जानकारी दी। जिसके बाद  एसपी शेखावत ने आगरा पुलिस को सूचना दी। एसपी शेखावत ने निहालगंज थाने पहुंच कर पकड़े गए संदिग्ध बदमाश से पूछताछ की। उसने डॉक्टर के अपहरण की बात बताई।

इसके बाद बुधवार को आगरा पुलिस धौलपुर पहुंची और वहां से धौलपुर पुलिस के साथ डॉक्टर और तीन बदमाशों की तलाश में दिहौली थाना इलाके के सामौर, शाला और जैतपुर और एमपी के मुरैना जिले के महुआखेड़ा और पिपरीपुरा के जंगलो में कॉम्बिंग अभियान चलाया। आगरा पुलिस ने SP सिटी पी रोहन बोत्रे के नेतृत्व में डॉक्टर की तलाश में चंबल के बीहड़ों में डेरा डाल रखा था। जिसका परिणाम है कि पकड़े गये बदमाश से पुछताछ के बाद राजस्थान व आगरा पुलिस की छापेमारी में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी। पुलिस ने डॉक्टर को सकुशल बरामद कर लिया गया है।

सूत्रों की मानें तो, डॉक्टर की पत्नी डॉ. विद्या गुप्ता ने बताया कि अस्पताल से राउंड लेकर उनके पति उमाकांत गुप्ता रात को दस बजे के आस-पास घर आ जाते थे लेकिन बीते मंगलवार की रात ग्यारह बजे तक उमाकांत गुप्ता घर नहीं पहुंचे और उनका मोबाइल भी देर शाम साढ़े सात बजे से स्विच ऑफ़ था।

इसके बाद उनकी पत्नी ने आगरा पुलिस को अपने पति के गायब होने की सूचना दी। आगरा पुलिस ने डॉक्टर गुप्ता की लोकेशन ट्रेस की तो अंतिम लोकेशन तेहरा, सैंया की मिली। आगरा पुलिस ने सैंया टोल प्लाजा के सीसीटीवी फुटेज भी चैक किए और देखा कि डॉक्टर की कार ने टोल प्लाजा पार नहीं किया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads