Home विदेश दुनिया पर अब मंडरा रहा World War का खतरा, महज एक महीने में छिड़ सकती है जंग !

दुनिया पर अब मंडरा रहा World War का खतरा, महज एक महीने में छिड़ सकती है जंग !

26 second read
0
289

मॉस्को : रूस और यूक्रेन के बीच बढ़ते सीमा तनाव को लेकर विश्व युद्ध की आशंका लगातार गहराती जा रही है। जिससे लोगों का कहना है कि अगर जल्द ही इस विवाद का समाधान नहीं किया गया तो महज एक महीने में इन दोनों देशों के बीच युद्ध छिड़ सकता है, जो विश्व युद्ध का रूप ले सकता है। खबरों की मानें तो रूस ने हाल ही में विवादित सीमा पर अपने 4,000 सैनिकों को भेजा है। जिसे लेकर पूरा यूपी हाई अलर्ट पर है।

एक वेबसाइट में छपी खबर के अनुसार, स्वतंत्र रूसी सैन्य विश्लेषक पावेल फेलगेनहर (Pavel Felgenhauer) का कहना है कि जिस तरह के हालात हैं उसे देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि अगले कुछ हफ्तों में यूरोपीय या विश्व युद्ध जैसा बड़ा खतरा सामने आने वाला है। उन्होंने आगे कहा कि, ‘खतरा बढ़ रहा है और तेजी से बढ़ रहा है। मीडिया में भले ही इस बारे में ज्यादा बात न हो, लेकिन हमें बेहद बुरे संकेत दिखाई दे रहे हैं।‘

 

पावेल ने कहा कि यह विवाद केवल दो देशों तक ही सीमित नहीं रहेगा। इसमें यूरोपीय या विश्व स्तर पर युद्ध का रूप लेने की भी क्षमता है। आपको बता दें कि फेलगेनहर का यह बयान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के उस आदेश के बाद आया है, जिसके तहत उन्होंने टैंक और अन्य बख्तरबंद वाहनों के साथ 4,000 रूसी सैनिकों को विवादित सीमा पर भेजा है।

बता दें कि पिछले हफ्ते यूक्रेन के कमांडर-इन-चीफ रुसलान खोमच (Ruslan Khomcha) ने संसद में कहा था कि रूसी संघ हमारे देश के प्रति आक्रामक नीति जारी रखे हुए है। रूस ने कम से कम अतिरिक्त 25 टेक्टिक ग्रुप को बॉर्डर एरिया में तैनात किया है। ये सभी यूक्रेन की सीमा पर पहले से तैनात रूसी सैनिकों के अलावा हैं। जिस पर रूसी सरकार का कहना है कि उसकी सेना के मूवमेंट से किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। वो कोई युद्ध की तैयारी नहीं कर रहा है।

विश्व युद्ध की संभावना क्यों?

रूस और युद्ध के बीच होने वाले युद्ध का विश्व युद्ध में बदलने के कई कारण हैं। सबसे पहला तो यही कि रूस और अमेरिका (America) धुर विरोधी हैं और यूक्रेन अमेरिका का करीबी। यदि रूस यूक्रेन को नुकसान पहुंचाता है, तो अमेरिका उसका साथ देगा और इस तरह अन्य देश भी उनसे जुड़ते जाएंगे। हाल ही में अमेरिका से सैन्य हथियारों से लदा एक कार्गो शिप यूक्रेन पहुंचा था। जिस पर रूस ने कड़ी आपत्ति जताई थी। आपको बता दें कि रूस पहले से ही यूक्रेन और अमेरिका में बढ़ती हुई नजदीकी से चिढ़ा हुआ है, जिसे लेकर युद्ध की संभावना और प्रबल हो गई है।

Load More In विदेश
Comments are closed.