Home देश दुल्हन हेलीकॉप्टर से आना चाहती थी ‘पिया के घर’, किसान के बेटे ने 7 लाख रुपये खर्च कर…

दुल्हन हेलीकॉप्टर से आना चाहती थी ‘पिया के घर’, किसान के बेटे ने 7 लाख रुपये खर्च कर…

2 second read
0
16

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी 

नई दिल्ली : प्यार में आपने आशिकों को चांद-तारे तोड़ लाने का वादे करते तो कई बार सुना होगा। लेकिन एक प्रेमी ऐसा भी है, जिसने लाखों रुपये खर्च कर अपनी पत्नी का सपना सच कर दिखाया। दरअसल, दुल्हन शादी के बाद हेलिकॉप्टर से ससुराल आना चाहती थी। इस बात का पता चलने पर दूल्हे ने पूरे 7 लाख रुपये खर्च कर हेलिकॉप्टर बुक किया और अपनी पत्नी का सपना पूरा किया। इससे यह पता चलता है कि वह अपनी पत्नी से किस हद तक प्यार करता है। 

मामला भरतपुर जिले के वैर सबब्लॉक में रायपुर गांव का है। जहाँ के रहने वाले दूल्हे सियाराम गुर्जर ने सोमवार को अपने ससुराल में एक हेलिकॉप्टर किराए पर लिया। जिसके बाद विदाई के समय मंगलवार को अपनी पत्नी के साथ आकाश में बादलों के बीच उड़ान भरकर अपने घर ले आया। बता दें कि सियाराम एक किसान का बेटा है। हेलिकॉप्टर में सियाराम गुर्जर और उनकी पत्नी के अलावा उनके भाई करतार सिंह और बहनोई रामप्रसाद भी सवार थे। 

विदाई के समय पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुँच कर यह सुनिश्चित किया कि कहीं कोविड गाइडलाइन को ताक पर रखकर तो यह नहीं किया जा रहा है। जैसे ही सियाराम के ससुराल में यह हेलीकॉप्टर नीचे उतरा, मानों लोगों का जमावड़ा सा लग गया। गांव के लोग हेलिकॉप्टर की केवल एक झलक देखना चाहते थे। 

सियाराम ने कहा कि उनकी पत्नी रमा का एक हेलीकॉप्टर में बैठकर ‘पिया के घर’ जाने का सपना था और इसलिए उन्होंने एक हेलिकॉप्टर किराए पर लिया, जिसकी कीमत 7 लाख रुपये थी।

वहीं, पत्नी रमा का कहना है कि अपने ससुराल जाने के लिए हेलिकॉप्टर की सवारी करना उनका सपना था, जो अब हकीकत में बदल गया है।

बताया जा रहा है कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए पहले तो जिला कलेक्टर और सीएमएचओ ने बारात के लिए हेलिकॉप्टर किराए पर लेने के लिए दूल्हे के आवेदन को खारिज कर दिया था। हालांकि, बाद में कुछ नियम और शर्तो के साथ अनुमति दे दी गई, जिसका दूल्हे ने विधिवत पालन करते हुए अपनी पत्नी का सपना पूरा किया। दुल्हन की असामान्य विदाई गांव में चर्चा का विषय बन गई है। 

Load More In देश
Comments are closed.