Home kolkata ADR Report: अंतिम चरण में 50 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले, TMC में 80 फीसदी उम्मीदवार हैं करोड़पति

ADR Report: अंतिम चरण में 50 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले, TMC में 80 फीसदी उम्मीदवार हैं करोड़पति

0 second read
0
22

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

कोलकाता: कोरोना के दूसरे लहर के कहर से देश में तबाही मची हुई है, वहीं दूसरी ओर बंगाल चुनाव भी अंत्म चरण में आ गया है। सात चरणों का चुनाव संपन्न होने के बाद आठवें और अंतिम चरण का मतदान 29 अप्रैल को होगा। अंतिम चरण के मतदान में 35 विधानसभा सीटों पर वॉ डाले जायेंगे। इसके लिए 283 उम्मीदवारों के भाग्य का फैंसला होगा। आइये जानते हैं कि इन उम्मीदवारों का कैसा रहा है सियासी सफर। इन 283 उम्मीदवारों में 23 प्रतिशत पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। वेस्ट बंगाल इलेक्शन वाच और एडीआर की रिपोर्ट में आठवें फेज के कैंडिडेट्स से जुड़ी अहम जानकारियां सामने आई हैं।

वेस्ट बंगाल इलेक्शन वाच और एडीआर की रिपोर्ट की मानें तो बंगाल चुनाव के आठवें चरण के कुल 283 उम्मीदवारों में से 64 (23 प्रतिशत) पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। जबकि, 50 (18 प्रतिशत) उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। इसी फेज में ही 55 प्रतिशत (19 प्रतिशत) उम्मीदवार करोड़पति हैं। उन उम्मीदवारों में से 50 उम्मीदवार तो ऐसे हैं, जिनपर गंभीर आपराधिक मामले चल रहे हैं। आपराधिक मामलों में हत्या, हमला, रेप, अपहरण जैसे क्रिमिनल्स केस शामिल हैं। इन उम्मीदवारों पर महिलाओं से अत्याचार के मामले भी दर्ज हैं। कई केस में पांच साल सजा का प्रावधान है।

किस पार्टी में कितने उम्मीदवारों पर आपराधिक केस?

टीएमसी 11 (31 प्रतिशत), बीजेपी 21 (60 प्रतिशत), माकपा 7 (70 प्रतिशत),

किस पार्टी में कितने उम्मीदवारों पर गंभीर मामले?

टीएमसी 8 (23 प्रतिशत), बीजेपी 18 (51 प्रतिशत), माकपा 2 (20 प्रतिशत), कांग्रेस 9 (47 प्रतिशत)।

एडीआर की रिपोर्ट ने बताया है कि अंतिम फेज में 55 करोड़पति कैंडिडेट्स चुनावी मैदान में हैं। इसमें टीएमसी के 28 (80 प्रतिशत) उम्मीदवार करोड़पति की लिस्ट में शामिल हैं। जबकि, बीजेपी के 12 (34 प्रतिशत) उम्मीदवार करोड़पति हैं। कांग्रेस के 5 (26 फीसदी) और माकपा के एक कैंडिडेट (10 प्रतिशत) करोड़पति हैं। इनकी संपत्ति एक करोड़ या उससे ज्यादा है। बंगाल चुनाव की बात करें तो 29 अप्रैल को अंतिम फेज की वोटिंग के बाद 2 मई को रिजल्ट है।

Load More In kolkata
Comments are closed.