1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. “रसीद दिखाकर अपना दान वापस ले सकते हैं संजय सिंह और अखिलेश यादव”: साक्षी महाराज

“रसीद दिखाकर अपना दान वापस ले सकते हैं संजय सिंह और अखिलेश यादव”: साक्षी महाराज

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के उन्नाव से भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महाराज ने कहा है कि जो लोग राम मंदिर निर्माण में भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहे हैं, वे रसीद दिखाकर अपना चंदा वापस ले लें। उन्होंने कहा कि जो नेता अब आरोप लगा रहे हैं, वे वही हैं जिन्होंने पूर्व में राम भक्तों पर गोलियां चलाई थीं।

साक्षी महाराज ने आगे कहा कि, “उन्होंने कहा था कि वे बाबरी मस्जिद के पास एक पक्षी को भी नहीं जाने देंगे। उनके दंभ का करारा जवाब दिया गया है और राम जन्मभूमि स्थल पर एक भव्य मंदिर बन रहा है। ऐसे लोगों के पास निराधार आरोप लगाने के अलावा और कुछ नहीं है।” उन्होंने कहा कि जहां तक चंपत राय की बात है तो उन्होंने अपना पूरा जीवन भगवान राम को समर्पित कर दिया है।

“चंपत राय पर आरोप लगाना सही नहीं”

बीजेपी सांसद ने कहा कि, “ऐसे व्यक्ति पर आरोप लगाना सही नहीं है। फिर भी, यदि आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने राम मंदिर के लिए कुछ दान किया है, तो वह रसीद दिखाकर अपना दान वापस ले सकते हैं। अखिलेश यादव ने दान दिया है, तो वह अपना दान वापस ले सकते हैं। ये वही लोग हैं जिन्होंने राम मंदिर का कड़ा विरोध किया था।”

संजय सिंह ने लगाए ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के आरोप

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाते हुए उसकी जांच सीबीआई और ईडी से कराने की मांग की थी। सिंह ने लखनऊ में दावा किया था कि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने संस्था के सदस्य अनिल मिश्रा की मदद से दो करोड़ रुपए कीमत की जमीन 18 करोड़ रुपए में खरीदी। उन्होंने कहा था कि यह सीधे-सीधे मनी लॉन्ड्रिंग का मामला है और सरकार इसकी सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय से जांच कराये। वहीं इसके जवाब में राम मंदिर ट्रस्ट महासचिव चंपत राय ने ओरिजिनल डॉक्यूमेंट दिखाते हुए आप नेता संजय सिंह और उनके समर्थक नेता को कड़ा तमाचा जड़ा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads