Home उत्तर प्रदेश एक आधार नंबर पर दो लोगों का रजिस्ट्रेशन, 10 साल के बच्चे की उम्र 70 साल

एक आधार नंबर पर दो लोगों का रजिस्ट्रेशन, 10 साल के बच्चे की उम्र 70 साल

6 second read
0
20

रिपोर्ट – फखरे आलम/ मोहम्मद आबिद
बाराबंकी : भारत देश में पहचान के लिए वोटर आईडी कार्ड के बाद अब आधार कार्ड को मान्यता दी गई है जिसको इसी लिए आधार को आम आदमी का आधार कहा जाता है।आधारकार्ड को बनवाने के बाद सिर्फ इसमें बहुत कम बदलाव ही किए जा सकते है लेकिन कुछ परिवर्तन आराम से किए जा सकते हैं लेकिन आधार कार्ड में रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं बदला जा सकता है।

बाराबंकी में एक ऐसा मामला सामने आया है आधार कार्ड में हुई एक गलती की वजह से एक बच्चे के आधार कार्ड का नंबर दो लोगों को एलाट कर दिया है और बच्चे की वास्तविक उम्र 10 साल बताई जा रही है और आधार कार्ड में 70 साल बताई जा रही है जिसके बाद अब जन्म तिथि संशोधन में बच्चे के परिजनों को परेशान होना पड़ रहा है।

 

बाराबंकी में ऐसा चमत्कार हुआ है और प्रमाण के रूप में बच्चे का आधार उसे प्रमाणित भी कर रहा है।बाराबंकी निवासी प्रसून मिश्रा ने अपने बच्चे का आधार कार्ड 2018 में बनवाया था और उनका आधारकार्ड बन भी गया था लेकिन घर पर डाक पोस्ट नहीं पहुंचा लेकिन जब वह अपना आधारकार्ड प्रिन्ट करवाने जनसेवा केन्द्र पहुंचे तो वह हैरान रह गए, क्योंकि उनके बच्चे का आधार नम्बर किसी और को भी एलाट हो चुका है जबकि एक व्यक्ति का आधार नम्बर एक ही होता है।

अधिवक्ता प्रसून मिश्रा ने बताया कि उनके बच्चे के आधारकार्ड का प्रिन्ट नही निकल रहा है । पता करने पर ज्ञात हुआ कि उनके बच्चे के आधारकार्ड के नम्बर को किसी और को भी एलाट कर दिया गया है और अब बच्चे की उम्र आधारकार्ड में 70 वर्ष दिखाया जा रहा है। जिस कारण आगे उन्हें बच्चे के एडमिशन , बैंक खाते को खुलवाने और जीवन बीमा आदि में बड़ी परेशानी हो सकती है । वह समझ नही पा रहे है कि आखिर एक नम्बर दो लोगों को कैसे एलाट कर दिया गया ।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.