1. हिन्दी समाचार
  2. business news
  3. राजस्थान : बिजली कनेक्शन का पैसा जमा करने के बावजूद भी नहीं आई बिजली, भारतीय किसान संघ ने दी आंदोलन की चेतावनी

राजस्थान : बिजली कनेक्शन का पैसा जमा करने के बावजूद भी नहीं आई बिजली, भारतीय किसान संघ ने दी आंदोलन की चेतावनी

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : राजस्थान की गहलोत सरकार में किसानों द्वारा बिजली कनेक्शन का पैसा जमा करने के बावजूद भी बिजली नहीं आई। जिससे 10 जिलों के 65 किसान खासा परेशान है। उनका कहना है कि उन्होंने 5 महीने पहले ही बिजली कनेक्शन के लिए पैसा जमा कर दिया था, लेकिन बिजली तो नहीं आई और मानसून आ गई। बता दें कि प्रदेश के विभिन्न इलाकों में बारिश का दौर शुरू हो गया है। किसान बुवाई में जुटने लग गये हैं। लेकिन जोधपुर डिस्कॉम (Jodhpur Discom) के कारण प्रदेश के दस जिलों के किसान खासा परेशान हो रहे हैं।

दरसअल कोरोना संक्रमण काल के चलते स्टील महंगा हो गया है। जोधपुर डिस्कॉम के अधीन आने वाले 10 जिलों के करीब 65 हजार किसानों ने कृषि कनेक्शन के लिये गत जनवरी में पैसे जमा करवा दिए थे। किसानों का कहना है कि मानसून आ गया है, लेकिन बिजली नहीं आई। किसानों की शिकायतों पर जोधपुर डिस्कॉम के एमडी अविनाश सिंघवी का कहना है कि स्टील की बढ़ी हुई कीमतों की वजह से सामान नहीं मिल पा रहा है। इसके कारण डिस्कॉम किसानों को कनेक्शन देने में असमर्थ हो रहा है।

फसलों की बुवाई पर संकट

आपको बता दें कि 5 महीने से बिजली कनेक्शन का इंतजार कर रहे किसानों के सामने अब बुवाई का संकट आ गया है। मारवाड़ में मूंगफली और जीरे समेत अन्य फसलों की बुवाई बिजली कनेक्शन नहीं मिलने से रुकी पड़ी है। कोरोना के कारण मजदूरों का भी टोटा है। जनरेटर या अन्य सुविधा जुटाने के लिए किसानों को अतिरिक्त खर्च वहन करना पड़ेगा। वह किसानों के बूते से बाहर हो रहा है। ऐसे में बिजली कनेक्शन नहीं मिलने आहत भारतीय किसान संघ ने अब आंदोलन की चेतावनी दी है।

इन जिलों के किसान कर रहे हैं कनेक्शन का इंतजार

जोधपुर डिस्कॉम में 65 हजार किसानों ने कनेक्शन के लिये आवेदन कर रखे हैं। इनमें जोधपुर जिले के 4818, पाली के 1921, सिरोही के 1086, जालोर के 1232, बाड़मेर के 3537, जैसलमेर के 1624, बीकानेर के 2737, चूरू के1844, हनुमानगढ़ के 2526 और श्रीगंगानगर के 1915 किसान शामिल हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads