1. हिन्दी समाचार
  2. विदेश
  3. प्रदर्शनकारियों ने ग्वाटेमाला संसद भवन के एक हिस्से में लगाई आग, 2021 के बजट को लेकर है नाराजगी

प्रदर्शनकारियों ने ग्वाटेमाला संसद भवन के एक हिस्से में लगाई आग, 2021 के बजट को लेकर है नाराजगी

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

ग्वाटेमाला सिटी : वर्ष 2021 के बजट की मंजूरी के विरोध में रैली कर रहे प्रदर्शनकारियों ने ग्वाटेमाला की संसद भवन में तोड़फोड़ के साथ ही उसके एक हिस्से में आग लगा दी। बता दें कि पारित किए गए बजट में शिक्षा और स्वास्थ्य के मद में कटौती के खिलाफ लोग एतराज जता रहे हैं। बजट की मंजूरी के विरोध में लगभग सात हजार प्रदर्शनकारी शनिवार को ग्वाटेमाला सिटी में नेशनल पैलेस के सामने प्रदर्शन कर रहे थे।

उनका आरोप था कि सांसदों ने आपसी बातचीत से ही बजट पारित कर दिया जबकि देश हाल के दिनों में आए तूफानों और कोरोना महामारी से जूझ रहा है। इंटरनेट मीडिया पर चल रहे वीडियो में संसद भवन की एक खिड़की से आग की लपटें निकलती दिखाई दे रही हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए सुरक्षा बलों ने उन आंसू गैस के गोले छोड़े, जिसमें कई लोग घायल हो गए।

देश के सांसदों ने अपने लिए भोजन का भुगतान करने के लिए $ 65,000 मंजूर किए, लेकिन कोरोना वायरस रोगियों और मानवाधिकार एजेंसियों के लिए धन में कटौती की है। इसके चलते लोगों में काफी आक्रोश है। कई सेक्टर सरकार द्वारा प्रस्तावित सार्वजनिक ऋण की वृद्धि का भी विरोध कर रहे हैं।

राष्ट्रपति ने ट्वीट करके संसद भवन को आग लगाए जाने वाली घटनाओं की निंदा की है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा है कि ऐसे लोगों से सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों को कानून के अनुसार प्रदर्शन करने का अधिकार है। उन्हें सार्वजनिक या निजी संपत्ति के साथ बर्बरता करने की अनुमति नहीं दी जा सकती। राष्ट्रपति ने बजट में बदलाव लाने के लिए विभिन्न समूहों के साथ बातचीत की बात भी कही है। उधर, उपराष्ट्रपति ने इस्तीफा देने की पेशकश के साथ ही राष्ट्रपति से भी कहा है कि देश की भलाई के लिए उन लोगों को पद छोड़ देना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...