1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. कोविड के दौरान लोगों की मदद के लिये शुरू किया पुलिस का अभियान ‘मिशन हौसला’ का अंतिम चरण

कोविड के दौरान लोगों की मदद के लिये शुरू किया पुलिस का अभियान ‘मिशन हौसला’ का अंतिम चरण

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

कोरोना के खिलाफ जंग में लोगों की मदद के लिए सबसे पहले टिहरी एसएसपी द्वारा शुरू किया गया अभियान ‘मिशन हौसला’ को अब पूरे उत्तराखंड पुलिस ने शुरू किया और रात दिन लोगों की हर सम्भव मदद की है। कोरोना की दूसरी लहर के बीच जब अस्पतालों में जरूरी चीजों की कमियों से लोग अपनी जान गवां रहे थे तब उत्तराखंड में आपदा में बने मित्र पुलिस ने हर उस जरूरतमंद तक जरूरी सामान से लेकर दवाइयां इंजेक्शन हर प्रकार की मदद का जिम्मा उठाया और उसका बखूबी निर्वहन किया। बाकायदा इसके लिये कन्ट्रोल रूम बनाये गये, अब प्रदेश में कोरोना मामलों में काफी कमी आयी है और हालात सामान्य हो रहे हैं ऐसे में अब मिशन हौसला पूर्ण हो गया है पर अभी भी कंट्रोल रूम चलते रहेंगे।

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में 01 मई 2021 से मिशन हौसला प्रारम्भ किया गया। 1 जून तक मिशन हौसला में प्रत्येक जनपद व बाटालियन में कोविड कन्ट्रोल रूम स्थापित कर उनके नम्बर जारी किये गए। जरूरतमंद हर उस इंसान को दवाइयां, ऑक्सीजन, प्लाज्मा/ब्लड डोनेशन, राशन सहित हर जरूरी सेवा उपलब्ध कराई गई। अब जिस प्रकार काविड के केसों में कमी आयी है, उसी अनुपात में सहायता के लिए आने वाली काॅल में भी कमी आयी है। लेकिन हेल्पलाइन नम्बर पूर्व की भांति चलते रहेंगे और पुलिस द्वारा सहायता भी की जाती रहेगी।

मिशन हौसला के तहत इस एक माह में पुलिस सहायता हेतु कुल 31815 फोन काॅल प्राप्त हुई, जिन पर कार्यवाही करते हुए कुल 2726 लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर, 792 लोगों को अस्पताल प्रबन्धन से समन्वय कर अस्पताल में बेड, 217 लोगों को प्लाज्मा/ब्लड डोनेशन, 17609 लोगों को दवाईयां, 600 लोगों को एंबुलेंस की सुविधा दिलाने में मदद की गयी। साथ ही 94484 लोगों को राशन, दूध व कुक्ड फूड, 792 कोरोना संक्रमितों का दाह संस्कार और 5252 सीनियर सिटिजन से सम्पर्क कर उनकी सहायता की गयी। बहुत से सामाजिक संगठनों और व्यक्तियों द्वारा व्यक्तिगत स्तर पर मिशन हौसला को सहयोग किया गया।

नीलेश आनन्द भरणे, पुलिस उपमहानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था/प्रवक्ता उत्तराखण्ड पुलिस ने बताया कि मिशन हौसला को सफल बनाने में उत्तराखण्ड पुलिस के सभी अधिकरियों एवं जवानों ने दिन-रात एक कर मानव सेवा के लिए कार्य किया है। मरीजों तक आक्सीजन सिलेंडर पहुंचाना हो या उनको अस्पताल ले जाकर बेड दिलाना। जरूरतमंदों की भूख मिटाना हो या उन्हें अस्पताल या घर पहुंचाना। हमारे जवान हर मोर्चे पर तन्मयता से जुटे रहे। मिशन हौसला के तहत प्रदेश के समस्त जनपदों में पुलिस कर्मियों ने जरूरतमंदों की मदद और सेवा की है निश्चित भरे नेक और निस्वार्थ स्वरूप को दर्शाता है। इस दौरान हमारे 2382 पुलिसकर्मी एवं उनके 751 परिजन भी कोरोना से संक्रमित हुए, जिसमें से 05 जवानों एवं 64 परिजनों की मृत्यु हुई। इसके बावजूद भी हमारे जवाने अपनी ड्यूटी पर अडिग रहे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads