1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. पीएम मोदी आसियान-भारत शिखर बैठक की सह-अध्यक्षता करेंगे

पीएम मोदी आसियान-भारत शिखर बैठक की सह-अध्यक्षता करेंगे

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे आ चुके हैं। मुकाबला दिन भर चलता रहा और काफी नजदीकी फाइट लोगों को देखने को मिली ! देर रात तक वोट गिने गए और आख़िरकार बिहार की जनता ने एक बार फिर एनडीए पर भरोसा दिखाया है। बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले एनडीए के उम्मीदवार 243 में से 125 सीटों पर विजयी रहे हैं।

इससे अब ये साफ़ हो गया है कि एक बार फिर नितीश कुमार की प्रदेश के अगले सीएम होंगे। इसी बीच आरजेडी एक इंतजार अब पांच साल और बढ़ गया है। सुबह से ही रुझान में आरजेडी पीछे रही और अंत में जीत एनडीए की ही हुई।

इस बीच खबर आई है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत और 10 दक्षिणपूर्वी एशियाई देशों के संगठन आसियान के बीच डिजिटल शिखर बैठक की बृहस्पतिवार को सह-अध्यक्षता करेंगे। यह बैठक कोरोना वायरस महामारी के कारण आए आर्थिक संकट से उबरने और रणनीतिक संबंधों को व्यापक बनाने पर केंद्रित हो सकती है।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस शिखर बैठक में आसियान-भारत रणनीतिक साझेदारी की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की जाएगी तथा संपर्क, समुद्री मार्ग संबंधी सहयोग, व्यापार एवं वाणिज्य, शिक्षा और क्षमता निर्माण जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में हुई प्रगति पर भी विचार किया जाएगा।

दक्षिणपूर्वी एशियाई राष्ट्रों के संगठन आसियान को क्षेत्र का सबसे प्रभावशाली समूह माना जाता है तथा भारत, चीन, जापान और आस्ट्रेलिया इसके संवाद साझेदार हैं। यह शिखर बैठक उस वक्त हो रही है जब दक्षिणी चीन सागर और पूर्वी लद्दाख में चीन का आक्रामक व्यवहार देखने को मिल रहा है।

कई आसियान देशों का दक्षिणी चीन सागर में चीन के साथ सीमा विवाद है। प्रधानमंत्री मोदी इस 17वें आसियान-भारत शिखर की बैठक की वियतनामी प्रधानमंत्री गुयेन जुआन फुक के साथ सह-अध्यक्षता करेंगे।

आसियान में इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपीन, सिंगापुर, थाईलैंड, ब्रुनेई, वियतनाम, लाओस, म्यामां और कंबोडिया शामिल हैं। प्रधानमंत्री मोदी पिछले साल नवंबर में बैंकॉक में हुई 16वीं आसियान-भारत शिखर बैठक में शामिल हुए थे।

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इस शिखर बैठक में शामिल नेता आसियान-भारत के बीच संबंध को मजबूत बनाने के उपायों पर चर्चा करेंगे और आसियान-भारत कार्य योजना (2021-2025) के अनुमोदन पर भी गौर करेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...