Home उत्तर प्रदेश पीलीभीत : बीजेपी विधायक रामसरन वर्मा ने किसानो को कहा दलाल

पीलीभीत : बीजेपी विधायक रामसरन वर्मा ने किसानो को कहा दलाल

11 second read
0
3

योगी सरकार जहां एक तरफ किसानों के धान का वाजिब मूल्य दिलाने के लिए सरकारी सेंटरों पर धान तुलवाने की बात करती है, तो वहीं उनकी सरकार के विधायक ने एक किसान को दलाल कहकर बखेड़ा खड़ा कर दिया। विधायक की बात से किसान आहत होकर उनकी गाड़ी के आगे लेट गया और फूट फूटकर रोने लगा। सूचना पर पहुंची पुलिस और एसडीएम ने किसान को समझा बुझाकर मामला शांत किया।

मामला पीलीभीत के बिलसंडा थाना क्षेत्र की मंडी समिति का है। जहां पर किसान कुलविंदर सिंह अपना धान तुलवाने को लेकर कई दिनों से मंडी में पड़े हुए थे। आज जब बीजेपी विधायक रामसरन वर्मा मंडी समिति में औचक निरीक्षण करने पहुंचे, तभी वहां किसान कुलविंदर सिंह की किसी बात को लेकर विधायक से कहासुनी हो गई।

किसानों का आरोप है कि किसान कुलविंदर सिंह को विधायक ने दलाल कह दिया। इसी बात को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया। सभी किसान एकजुट हो गए और विधायक की गाड़ी को घेर लिया और उनके खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे।

 

पीड़ित किसान विधायक की गाड़ी के आगे लेट गया और बुरी तरह फूट-फूट कर रोने लगा। बखेड़ा होता देख स्थानीय पुलिस और एसडीएम पहुंच गए। अधिकारियों ने समझा बुझाकर मामला शांत कराया। बीजेपी विधायक के रवैया से किसानों में आक्रोश है। वही किसानों ने बीजेपी विधायक को राइस मिलों से रिश्वत लेने की बात कही।

पीड़ित किसान का कहना है कि कई दिनों से क्रय केंद्र पर किसानों का धान तुलने के लिए पड़ा हुआ है। क्रमवार एक सेंटर पर 10 -10 किसानों का धान तुलवाने का सिस्टम चल रहा था। अचानक विधायक मंडी पहुंचे। तभी किसान ने वहां की व्यवस्था को अच्छा बताया इतने में विधायक भड़क गए और किसान को दलाल बता दिया।

पीड़ित किसान का आरोप है कि विधायक ने उसे पुलिस से पकड़वाकर जेल भेजने के लिए भी धमकाया। किसान ने यह भी आरोप लगाया कि विधायक की छत्रछाया में बड़े-बड़े खनन माफिया अनाज माफिया और राइस मिलर पल रहे हैं। हो सकता है कि इनकी सांठगांठ हो गई हो। विधायक अपने आपको ईमानदार गिनता था। मुझे नजर नहीं आता उनकी ईमानदारी काम कर रही है।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.