Home उत्तर प्रदेश नोएडा और ग्रेटर नोएडा में मंगलवार को उच्च प्रदूषण का स्तर दर्ज

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में मंगलवार को उच्च प्रदूषण का स्तर दर्ज

4 second read
0
5

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में मंगलवार को उच्च प्रदूषण का स्तर दर्ज

दिल्‍ली में ठंड का कहर बढ़ते ही दिल्‍ली और उसके पड़ोसी शहरों की हवा और भी जहरीली हो चुकी है। दिल्ली से सटे हुए पांच शहर जिनमें गुड़गांव, गाजियाबाद, फरीदाबाद, नोएडा और ग्रेटर नोएडा में मंगलवार को उच्च प्रदूषण का स्तर दर्ज किया गया।

सरकारी एजेंसी द्वारा जारी किए गए 24 घंटे के आंकड़ों के अनुसार, गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद और गुड़गांव के शहरों में औसत हवा की गुणवत्ता खराब बनी हुई है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सीपीसीबी द्वारा बनाए गए वायु गुणवत्ता सूचकांक एक्यूआई के अनुसार, दिल्ली के पांच तत्काल पड़ोसियों में प्रदूषक पीएम 2.5 और पीएम 10 की उपस्थिति अधिक रही।

सूचकांक के अनुसार, शून्य और 50 के बीच एक AQI को अच्छा , 51 और 100 संतोषजनक , 101 और 200 को ‘मध्यम’, 201 और 300 को ‘खराब’ , 301 और 400′ माना जाता है। 401 और 500 में ‘बहुत खराब” गंभीर माना जाता है।

CPCB के समीर एप के अनुसार, 24 घंटे की AQI मंगलवार शाम 4 बजे, गाजियाबाद में 283, ग्रेटर नोएडा में 272, नोएडा में 258, फरीदाबाद में 291 और गुड़गांव में 214 थी। CPCB बताता है कि “खराब” श्रेणी में AQI लंबे समय तक संपर्क में रहने पर लोगों को सांस लेने में समस्या पैदा कर सकती है।

सोमवार को औसत एक्यूआई गाजियाबाद में 256, ग्रेटर नोएडा में 237, नोएडा में 225, फरीदाबाद में 296 और गुड़गांव में 226 था। रविवार को गाजियाबाद में यह 407, ग्रेटर नोएडा में 418, नोएडा में 405, फरीदाबाद में 404 और गुड़गांव में 359 था।

प्रत्येक शहर के लिए AQI वहां के सभी स्टेशनों के औसत मूल्य पर आधारित है। ऐप के मुताबिक, नोएडा, फरीदाबाद, गाजियाबाद में चार स्टेशन हैं, जबकि गुड़गांव में तीन और ग्रेटर नोएडा में दो हैं।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.