Home ताजा खबर निर्भया केस: डेथ वारंट जारी होने के बाद SC में दोषी विनय कुमार शर्मा ने दाखिल की क्यूरेटिव पिटिशन

निर्भया केस: डेथ वारंट जारी होने के बाद SC में दोषी विनय कुमार शर्मा ने दाखिल की क्यूरेटिव पिटिशन

1 second read
0
17

निर्भया केस मामले में चारों आरोपियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी होने के बाद एक आरोपी विनय कुमार शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटिशन दाखिल की है। इस याचिका में फांसी पर रोक लगाए जाने की मांग की गई है। दरअसल दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों आरोपियों के खिलाफ 7 जनवरी को डेथ वारंट जारी किया था। अभी तक सुप्रीम कोर्ट की ये परंपरा रही है कि रेयरेस्ट ऑफ द रेयर मामले में ही शीर्ष अदालत ने क्यूरेटिव पिटिशन में अपना फैसला बदला है। ऐसे में दोषियों की फांसी टलना मुश्किल है।

कानून के जानकारों की मानें तो डेथ वारंट जारी होने के बाद भी मुजरिम चाहे तो दया पिटिशन दाखिल कर सकता है। इसके लिए किसी तरह की कोई समय सीमा नहीं है। लेकिन इस मामले में अब क्यूरेटिव पिटिशन का रास्ता बंद दिख रहा है। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के रूल और ऑर्डर के तहत ये प्रावधान है कि क्यूरेटिव पिटिशन दाखिल करने के दौरान ये बताना होता है कि उनके ग्राउंड को रिव्यू पिटिशन पर इन चैंबर विचार के दौरान नहीं देखा गया ऐसे में क्यूरेटिव पिटिशन दाखिल की जाती है।

लेकिन मौजूदा मामले में रिव्यू पिटिशन ओपन कोर्ट में सुना गया और फिर खारिज हो चुका है ऐसे में उनके मुताबिक क्यूरेटिव पिटिशन नहीं बनता है। अब चारों दोषियों को 22 जनवरी की सुबह 7 बजे एक साथ तिहाड़ जेल में एक साथ फांसी पर लटकाया जाएगा।

Share Now
Load More In ताजा खबर
Comments are closed.