1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. मंगलवार से तैयारियों में जुटेंगे 15 विपक्षी दल, 10 दिन में दूसरी बार मिले NCP प्रमुख शरद पवार और प्रशांत किशोर

मंगलवार से तैयारियों में जुटेंगे 15 विपक्षी दल, 10 दिन में दूसरी बार मिले NCP प्रमुख शरद पवार और प्रशांत किशोर

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक अहम बैठक के लिए सभी राजनीतिक दलों को बुलाया है। पीएम बुलावे को न्योते के बाद सभी राजनीतिक पार्टीयों में चहलकदमीं और मंथन का दौर तेज हो गया है। पीएम की बैठक से पहले दिल्ली में विपक्षी नेताओं की मंगलवार शाम 4 बजे शरद पवार के आवास पर भी बैठक होने वाली है।

इस बैठक के लिए विपक्षी दलों को आमंत्रण NCP प्रमुख शरद पवार और तृणमूल कांग्रेस नेता यशवंत सिन्हा की तरफ से भेजा गया है। वहीं दूसरी ओर बैठक से पहले शरद पवार ने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर से दस दिनों में दूसरी बार मुलाकात की। यह मुलाकात करीब तीन घंटे चली। इस बैठक को लेकर कयासों का दौर भी तेज हो गया है। चर्चा है कि प्रशांत किशोर और शरद पवार की कई दौर की मुलाकात अगले आम चुनावों के मद्देनजर एक बड़ी योजना का हिस्सा हो सकती है और इसका उद्देश्य समान विचारधारा वाले दलों को एकजुट करना है।

आपको बता दें कि बैठक में भाग लेने के लिए 15 विपक्षी दलों को निमंत्रण भेजा गया है, लेकिन कुछ दलों ने अब तक भागीदारी की पुष्टि की है। पुष्टी न करने वाले दलों में कांग्रेस पार्टी भी शामिल है। देखना दिलचस्प होगा कि कांग्रेस बैठक में शामिल होगी या नहीं। सोमवार दोपहर तक, कांग्रेस की ओर से कोई पुष्टि नहीं की गई थी, लेकिन 7 दलों ने बैठक में भाग लेने की पुष्टि की है।

जिन लोगों को बैठक में शामिल होने के लिए बुलाया गया है, उनमें आरजेडी के मनोज झा, आप के संजय सिंह और कांग्रेस के नेता विवेक तन्खा शामिल हैं। एनसीपी ने विपक्षी दलों की बैठक से पहले मंगलवार सुबह अपने ही राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है।

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद बतौर चुनावी रणनीतिकार काम न करने का ऐलान करने वाले प्रशांत किशोर ने सोमवार को दूसरी बार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी यानी एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की है। दूसरी मुलाकात के बाद सियासी अटकलें फिर से तेज हो गई हैं।

कहा जा रहा है कि अगले लोकसभा चुनावों में विपक्षी दल पीएम मोदी के खिलाफ अगले चुनावों में एक साझा प्रत्याशी उतार सकते हैं, इसलिए प्रशांत किशोर के साथ एनसीपी चीफ की मुलाकात को अहम माना जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads