1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. MP News: सीएम यादव की कोर टीम के बीच काम का बंटवारा, राजेश राजौरा, राघवेंद्र सिंह और भरत यादव की मुख्य भूमिकाएँ

MP News: सीएम यादव की कोर टीम के बीच काम का बंटवारा, राजेश राजौरा, राघवेंद्र सिंह और भरत यादव की मुख्य भूमिकाएँ

मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कुशल प्रशासन और अपने निर्देशों का प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित करते हुए अपनी कोर टीम के बीच जिम्मेदारियों को सावधानीपूर्वक वितरित किया। कार्य विभाजन में अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव संजय शुक्ला और राघवेंद्र सिंह तथा सचिव भरत यादव की प्रमुख भूमिका शामिल है।

By Rekha 
Updated Date

मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कुशल प्रशासन और अपने निर्देशों का प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित करते हुए अपनी कोर टीम के बीच जिम्मेदारियों को सावधानीपूर्वक वितरित किया। कार्य विभाजन में अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव संजय शुक्ला और राघवेंद्र सिंह तथा सचिव भरत यादव की प्रमुख भूमिका शामिल है।

राजेश राजौरा, अपर मुख्य सचिव
राजौरा सभी विभागों पर नजर रखेंगे और सीएम की घोषणाओं के क्रियान्वयन पर नजर रखेंगे। यह सुनिश्चित करने में उनकी भूमिका महत्वपूर्ण है कि सीएम द्वारा निर्धारित निर्देशों और नीतियों को सभी क्षेत्रों में निर्बाध रूप से क्रियान्वित किया जाए।

संजय शुक्ला, प्रमुख सचिव

संजय शुक्ला को महत्वपूर्ण विभाग सौंपे गए हैं, जिनमें सामान्य प्रशासन, कार्मिक, गृह, वित्त, कानून और विधायी, संसदीय कार्य, शहरी प्रशासन और आवास, पंचायत और ग्रामीण विकास, परिवहन, जल संसाधन, सार्वजनिक स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा, वन और ऊर्जा शामिल हैं।

भरत यादव, सचिव
भरत यादव जनसंपर्क, लोक निर्माण, राजस्व, पीएचई (सार्वजनिक स्वास्थ्य इंजीनियरिंग), खनिज, वाणिज्यिक कर, सहकारिता, खाद्य और नागरिक आपूर्ति और कृषि का प्रबंधन करेंगे। ये विभाग लोक कल्याण और आर्थिक स्थिरता बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण हैं।

राघवेंद्र सिंह, प्रमुख सचिव
राघवेंद्र सिंह स्कूली शिक्षा, उच्च शिक्षा, पर्यावरण, पर्यटन, विज्ञान और प्रौद्योगिकी और सामाजिक न्याय संभालेंगे। राज्य की शैक्षिक और पर्यावरण पहल के लिए उनकी भूमिका महत्वपूर्ण है।

कार्य वितरण में एक उल्लेखनीय बदलाव यह है कि अतिरिक्त सचिवों और उप सचिवों के पास अब विभागों की सीधी जिम्मेदारी नहीं होगी। इसके बजाय, वे अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और सचिव को रिपोर्ट करेंगे। इस पुनर्गठन का उद्देश्य रिपोर्टिंग लाइनों को सुव्यवस्थित करना और प्रशासन के भीतर जवाबदेही बढ़ाना है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...