1. हिन्दी समाचार
  2. business news
  3. प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए मोदी सरकार देगी घरों को सुरक्षा कवच! कर रही इस बड़ी योजना पर काम, जानिए फायदा

प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए मोदी सरकार देगी घरों को सुरक्षा कवच! कर रही इस बड़ी योजना पर काम, जानिए फायदा

देश में हर साल प्राकृतिक आपदा अपना कहर बरसाकर कई लोगों को तबाह कर जाती है, जिसमें वो बर्बाद हो जाते है। इसमें से ज्यादातर परिवार ऐसे होते हैं जिनके लिए दोबारा घर बना पाना मुश्किल होता है। इन्हीं प्राकृतिक आपदा से बचने के लिए मोदी सरकार एक ऐसी योजनी ला रही है, जो सिर्फ भूकंप में ही नहीं बल्कि बाढ़ और आग जैसे घटना में भी लाखों लोगों के घर को सुरक्षा कवच देगी।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : देश में हर साल प्राकृतिक आपदा अपना कहर बरसाकर कई लोगों को तबाह कर जाती है, जिसमें वो बर्बाद हो जाते है। इसमें से ज्यादातर परिवार ऐसे होते हैं जिनके लिए दोबारा घर बना पाना मुश्किल होता है। इन्हीं प्राकृतिक आपदा से बचने के लिए मोदी सरकार एक ऐसी योजनी ला रही है, जो सिर्फ भूकंप में ही नहीं बल्कि बाढ़ और आग जैसे घटना में भी लाखों लोगों के घर को सुरक्षा कवच देगी।

ये है केंद्र सरकार की योजना

जानकारी के मुताबिक, केंद्र सरकार प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJY) और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY) की तर्ज पर और इसी बड़े पैमाने पर लोगों के घरों की सुरक्षा की बीमा योजना लॉन्च करने वाली है। केंद्र सरकार होम इंश्योरेंस स्कीम के जरिए प्राकृतिक आपदा जैसे बाढ़ भूकंप के दौरान लोगों के घरों को होने वाले नुकसान को कवर करने के लिए 3 लाख रुपये तक का इंश्योरेंस कवरेज देगी , इसके साथ ही 3 लाख रुपये तक कवरेज घर के सामानों का होगा और 3-3 लाख रुपये तक का पर्सनल एक्सीडेंट कवर पॉलिसी लेने वाले परिवार के दो लोगों को दिया जाएगा।

कितना होगा प्रीमियम?

मिली जानकारी के मुताबिक, पॉलिसी को लेकर एक व्यापक रूपरेखा पहले ही तैयार की जा चुकी है। बात सिर्फ प्रीमियम को लेकर अटकी हुई है। दरअसल, इंश्योरेंस कंपनियों की ओर से प्रति पॉलिसी 1000 रुपये से ऊपर का कोटेशन दिया गया है। लेकिन केंद्र सरकार इसे 500 रुपये तक ही सीमित रखना चाहती है। इसमें निजी और सरकारी दोनों ही कंपनियां शामिल हैं। अगर निजी कंपनियां प्रीमियम कम नहीं करेंगी तो इस योजना को सरकारी कंपनियों के जरिए पूरे देश में लागू किया जाएगा। हालांकि प्रीमियम को लेकर बीमा कंपनियों के साथ सरकार की बातचीत अभी जारी है।

गेमचेंजर साबित होगी होम इंश्योरेंस योजना

आपको बता दें कि हमारे देश में जितनी जागरूकता हेल्थ इंश्योरेंस, लाइफ इंश्योरेंस को लेकर उतनी होम इंश्योरेंस को लेकर नहीं है। सरकार की ये स्कीम कंज्यूमर और बीमा कंपनियों दोनों के लिए गेम चेंजर साबित हो सकती है। सरकार इस योजना पर बड़ी तेजी के साथ काम कर रही है। केंद्र सरकार की योजना जनरल इंश्योरेंस कंपनियों के जरिए होगी और इसका प्रीमियम लोगों के बैंक अकाउंट से लिंक होगा, जैसा कि PMJJY, PMSBY योजनाओं में होता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...