1. हिन्दी समाचार
  2. इटावा
  3. ओवरलोड ट्रक पकड़ने पर खनन माफिया और उनके गुर्गों ने पुलिस टीम पर किया हमला, दरोगा समेत 5 पुलिसकर्मी घायल

ओवरलोड ट्रक पकड़ने पर खनन माफिया और उनके गुर्गों ने पुलिस टीम पर किया हमला, दरोगा समेत 5 पुलिसकर्मी घायल

यूपी के इटावा जिले से एक ऐसा मामला सामने आ रहा है, जिसे जानकर आप भी दंग रह जायेंगे। जिले के बढपुरा इलाके में चंबल नदी पर बनी चेक पोस्ट पर मध्य प्रदेश से आए ओवरलोड ट्रक को पकड़ने पर खनन माफिया और उनके गुर्गों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

इटावा: यूपी के इटावा जिले से एक ऐसा मामला सामने आ रहा है, जिसे जानकर आप भी दंग रह जायेंगे। जिले के बढपुरा इलाके में चंबल नदी पर बनी चेक पोस्ट पर मध्य प्रदेश से आए ओवरलोड ट्रक को पकड़ने पर खनन माफिया और उनके गुर्गों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया। पुलिस पर हमला करने के बाद खनन माफिया ट्रक को लेकर भाग निकले।

आपको बता दें कि खनन माफियाओं के हमले में दरोगा समेत 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसके साथ ही खनन माफियाओं की धर-पकड़ के लिए छापेमारी चल रही है। इस मामले में पुलिस अधिक्षक सिटी इटावा प्रशांत कुमार प्रसाद ने बताया कि बढपुरा थाना क्षेत्र के चंबल पुल पर स्थित चेक पोस्ट पर खनन अधिकारी ब्रज बिहारी पुलिस टीम के साथ चेकिंग कर रहे थे। तभी मध्यप्रदेश से आए मौरंग लदे ट्रक को रोका गया।

उन्होने आगे बताया कि ट्रक ओवरलोड होने पर उसमें दो सिपाहियों को साथ में मध्य प्रदेश के फूप बरही टोल प्लाजा पर लगे कांटे पर वजन कराने भेजा, क्षमता से अधिक वजन होने पर सिपाही ट्रक को वापस लेकर चेक पोस्ट पर आए और पुलिस ने कार्रवाई शुरू की। तभी ड्राइवर के फोन करने पर 20-25 खनन माफिया अपने गुर्गों के साथ पहुंच गए। लाठी डंडों, सरिया से लैस गुर्गों ने ईंट-पत्थर के साथ पुलिस पर हमला बोल दिया। अचानक हमले से पुलिसकर्मियों ने जैसे-तैसे अपनी जान बचाई।

मामले की सूचना मिलते ही बढ़पुरा थानाध्यक्ष फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक हमलावर ट्रक लेकर मध्य प्रदेश की तरफ भाग चुके थे। हमले में दरोगा संजीव सिंह, सिपाही मानपाल, हितेश कुमार, अमन कुमार और संजीव घायल हुए हैं। पुलिस ने सभी को इलाज के लिए अस्पताल भेजा है।

इस मामले में पुलिस ने पांच नामजद व 20-25 अज्ञात के खिलाफ हत्या का प्रयास, बलवा, सरकारी काम में बाधा डालने, सेवन सीएलए के तहत रिपोर्ट दर्ज की है। पुलिस ने इस मामले मे धारा 147,148,149, 307, 224, 332, 336, 353, 407, 504, 506 आईपीसी व 7 क्रिमिनल ला अमेंडमेंट एक्ट का मुकदमा दर्ज किया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...