Home उत्तर प्रदेश लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन ने जारी किए सख्त निर्देश, बिना अनुमति के बाहर जाने से लगाई रोक

लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन ने जारी किए सख्त निर्देश, बिना अनुमति के बाहर जाने से लगाई रोक

2 second read
0
15

रिपोर्ट: नंदनी तोदी
लखनऊ: भारत में कोरोना का कहर तेज़ी से बढ़ता जा रहा है। बात करें यूपी की तो वह भी मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसी को लेकर प्रदेश सरकार काफी सक्रीय है।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ विश्वविद्यालय के हॉस्टल में रह रहे बच्चों को घर जाने के निर्देश जारी किया गया है। आपको बता दे कि, कोरोना महामारी के चलते विद्यार्थियों को घर में ही रहने को कहा गाया है।

इसी के चलते सोमवार को राजधानी के लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राओं के लिए कोरोना महामारी से बचाव और सुरक्षा की दृष्टि से नया फरमान जारी किया गया है। और जब तक ऑफलाइन क्लासेस चालू होगी तब तक हॉस्टल में रहने की अनुमति किसी भी छात्र को नहीं है।

सोमवार को विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से जारी किए गए निर्देशों के मुताबिक, छात्रावास में रहने वाले छात्र और छात्राएं बिना प्रोवोस्ट की अनुमति के बाहर नहीं जा सकेंगे। विशेष परिस्थिति में बाहर जाने के साथ प्रशासन की ओर से घर जाने की अनुमति दी गई है।

ये फैसला लिया गया है क्योंकि, विश्वविद्यालय प्रशासन के कई शिक्षक बीते दिनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसमें से एक रिटायर्ड शिक्षक की कोरोना संक्रमण के चलते मृत्यु भी हो गई थी। जिसके बाद एहतियात के तौर पर हॉस्टल में रह रहे छात्र-छात्राओं के लिए निर्देश जारी किए गए हैं।

आपको बता दे कि, चीफ प्रोवोस्ट नलिनी पांडे ने हॉस्टल ने बताया कि शहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राओं को ऑफलाइन कक्षाएं शुरू होने तक घर पर रहने के लिए निर्देशित किया गया है। छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राओं को साफ तौर पर बता दिया दिया गया है कि आपातकालीन स्थिति को छोड़ कर उन्हें किसी भी परिस्थिति में बाहर निकलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। यदि किसी कारण वे बाहर या घर जाना चाहते हैं तो उसके लिए उन्हें संबंधित छात्रावास के प्रोवोस्ट से लिखित रूप से अनुमति लेनी होगी।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.