Home मनोरंजन हेमा मालिनी कैसे बनी ‘ड्रीम गर्ल’ जानिए दिलचस्प कहानी

हेमा मालिनी कैसे बनी ‘ड्रीम गर्ल’ जानिए दिलचस्प कहानी

2 min read
0
7

बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल यानी हेमा मालिनी ने अपनी एक्टिंग से लोगों के दिलों में खास जगह बनाई है। उनके काम को बहुत पसंद किया गया।

हेमा फिल्मों से लेकर अपने पॉलिटिकल करियर में सफल रहीं। आज वह फैमिली के साथ अपना 72वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रही हैं। इस खास मौके पर उस दिलचस्प कहानी के बारे में जानते हैं जिसके बाद उन्हें ड्रीम गर्ल कहा जाने लगा।

हेमा ने साल 1968 में फिल्म सपनों का सौदागर से बॉलीवुड डेब्यू किया था। इसमें राज कपूर लीड हीरो थे। फिल्म के प्रोड्यूसर अनंत स्वामी थे। बताया जाता है कि मेकर्स, फिल्म के लिए बज बनाना चाहते थे और इसके लिए वह एक वन लाइनर ढूंढ रहे थे।

काफी सोचने के बाद अनंत स्वामी को आइडिया आया और उन्होंने हेमा की फोटो के नीचे Raj Kapoor’s Dream Girl लिख दिया। उन्हें लगा कि शायद इससे फिल्म को लेकर दर्शकों की रुचि बढ़ेगी। उस वक्त हेमा मालिनी 16 साल की थीं।

फिल्म के लिए यह एक स्टंट की तरह था, जो कुछ खास काम नहीं आया। फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर औसत बिजनेस किया। लेकिन फिल्म में हेमा के काम को बहुत पसंद किया गया।

फिल्म की रिलीज के बाद मीडिया और फैन्ह हेमा को ‘ड्रीम गर्ल’ कहकर बुलाने लगे। इसके बाद हेमा मालिनी को दिए गए टैग ड्रीम गर्ल के नाम से भी फिल्म बनी, जिसमें उन्होंने धर्मेंद्र के साथ काम किया था। इस फिल्म का निर्देशन प्रमोद चक्रवर्ती ने किया था। इस फिल्म का टाइटल ट्रैक ड्रीम गर्ल काफी पॉप्युलर हुआ था।

 

 

Load More In मनोरंजन
Comments are closed.