Home ताजा खबर JNU हिंसा: पुलिस ने दर्ज की FIR, गृह मंत्री नें मांगी तत्काल रिपोर्ट

JNU हिंसा: पुलिस ने दर्ज की FIR, गृह मंत्री नें मांगी तत्काल रिपोर्ट

3 second read
0
39

दिल्ली के जवाहर लाला नेहरू विश्वविद्यालय में रविवार रात हुई हिंसा पर दिल्ली पुलिस अब एक्शन में है। पुलिस ने सोमवार सुबह अज्ञात लोगों के खिलाफ दंगा भड़काने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का केस दर्ज कर लिया है। वहीं, पुलिस कुछ नकाबपोशों को पहचान लिए जाने का भी दावा कर रही है। गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल और दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात कर हिंसा पर तत्काल रिपोर्ट मांगी है।

JNU मामले पर नेताओं की प्रतिक्रिया

जेएनयू परिसर में हुई हिंसा पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा है कि, इस मामले पर जांच शुरू हो गई है। विश्वविद्यालयों को राजनीति के केंद्र में नहीं रखा जाना चाहिए, न ही छात्रों को राजनीतिक मोहरे के रूप में इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि, जेएनयू में हुई हिंसा को जानकर मैं बहुत हैरान हूं। छात्रों ने बेरहमी से हमला किया। पुलिस ने तुरंत हिंसा को रोका और शांति बहाल की। अगर हमारे छात्र कैंपस के अंदर सुरक्षित नहीं रहेंगे तो देश कैसे आगे बढ़ेगा?

कांग्रेस के पूर्व महासचिव राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, नकाबपोश ठगों द्वारा जेएनयू के छात्रों और शिक्षकों पर किया गया क्रूर हमला, जिसमें कई गंभीर रूप से घायल हो गए, यह चौंकाने वाला खबर है। हमारे राष्ट्र के नियंत्रण में फासीवादी, हमारे बहादुर छात्रों की आवाज़ से डरते हैं। जेएनयू में आज की हिंसा उसी डर का प्रतिबिंब है।

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि, जेएनयू में मोदी सरकार की दुश्मनी जगजाहिर है। दिल्ली पुलिस जेएनयू के गेट पर है। इसके बावजूद, गुंडों ने लाठी-डंडे से साबरमती और अन्य छात्रावासों में छात्रों और शिक्षकों की पिटाई की। क्या यह राज्य प्रायोजित तबाही फैलाया जा रहा है?

इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, जेएनयू में छात्रों ने की पिटाई, शिक्षकों ने की पिटाई। गुंडों ने महिलाओं के होटल में तोड़फोड़ की और मारपीट की। ना तो कहीं पुलिस है और ना ही जेएनयू प्रशासन! इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, क्या यह मोदी सरकार छात्रों और युवाओं के खिलाफ बदला लेना चाहती है क्या?

Share Now
Load More In ताजा खबर
Comments are closed.