Home kolkata किसी का गर्दन काट दिया गया तो किसी को मारी गई 8 गोली, बंगाल में मारे गये BJP कार्यकर्ताओं के परिवार से मिले PM मोदी

किसी का गर्दन काट दिया गया तो किसी को मारी गई 8 गोली, बंगाल में मारे गये BJP कार्यकर्ताओं के परिवार से मिले PM मोदी

0 second read
0
574

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

कोलकोता: एक तरफ देश में कोरोना का कहर जारी है,तो वहीं दूसरी ओर बंगाल विधानसभा चुनाव अपने चरण पर है। पीएम मोदी ने बंगाल में उन कार्यकर्ताओं के परिवार वालों से मुलाकात की, जो राजनीति के भेंट चढ़ गये और उनकी हत्या कर दी गई। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि दीदी की आंखों पर अहंकार का पर्दा चढ़ा हुआ है। बीते 10 साल में भाजपा के अनेक कार्यकर्ताओं की हत्या की गई है। ऐसे में बताते हैं कि पश्चिम बंगाल में कैसे भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की गई।

आपको बता दें कि साल 2019 में कांकिनारा बाजार गोली कांड में धर्मवीर साव (35) और रामबाबू साव (20) की मौत हो गई। वहीं इस हमले में 5 लोग घायल हो गए थे। 20 जून 2019 का है। घटना को जिस वक्त अंजाम दिया गया था, उस वक्त सुबह के 11 बजे रहे थे। दुकान और बाजार में भीड़ थी। मिली जानकारी के मुताबिक, बाजार से करीब 200 मीटर दूर कुछ उपद्रवी पुलिस के इशारे पर माहौल को खराब करने की कोशिश कर रहे थे।

इसी बीच कुछ देर बाद वहां फायरिंग होने लगी। इस गोली कांड में रामबाबू को सिर पर गोली लगी, जो 50 मीटर दूर दुकान पर समान खरीद रहा था। इससे पहले भी 26 मई 2019 को कार्यकर्ता चंदन साव की मौत हो गई। उसे चुनाव के समय 4 गोलियां मारी गईं।

पिछले साल 15 मई को भी दो सगे भाईयों अनूप मंडल (30 साल) सुसांतों मंडल (28 साल) की हत्या कर दी गई थी। उस वक्त कहा गया कि पड़ोस में रहने वाले पुलिसकर्मी ने दोनों भाइयों को गोली मारकर हत्या कर दी।

इसके अलावा 28 साल के सैकत बवाल की 12 दिसंबर 2020 को हत्या कर दी गई। आरोप टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लगा। वहीं 24 साल के लाला चौधरी की भी बुरी तरह से हत्या की गईष  रात के वक्त उन्हें पकड़ लिया गया, इसके बाद सिर काटकर ट्रेन की बोगी में रख दिया। इन सब कार्यकर्ताओं के परिवारवालों से पीएम मोदी ने मुलाकात की है।

Load More In kolkata
Comments are closed.