1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. गोरखपुर : विद्युत प्रणाली के सुदृढ़ीकरण के लिए 216 करोड़ की परियोजना

गोरखपुर : विद्युत प्रणाली के सुदृढ़ीकरण के लिए 216 करोड़ की परियोजना

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

 

गोरखपुर : विद्युत प्रणाली के सुदृढ़ीकरण के लिए 216 करोड़ की परियोजना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर वर्चुअल माध्यम से गोरखपुर जनपद की विद्युत प्रणाली के सुदृढ़ीकरण हेतु 04 नई विद्युत परियोजनाओं की घोषणा सहित लगभग 216 करोड़ रुपए की लागत की विभिन्न विद्युत परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया।

शिलान्यास की गई 07 ऊर्जा परियोजनाओं की लागत 94.95 करोड़ रुपए तथा लोकार्पण 06 परियोजनाओं की लागत 12 करोड़ रुपए से अधिक है। इनमें प्रस्तावित 04 नई विद्युत परियोजनाओं की अनुमानित लागत 108 करोड़ 50 लाख रुपए है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने गोरखपुर के सांसद श्री रविकिशन शुक्ला, विधायक श्री विपिन सिंह, श्री शीतल पाण्डेय, श्री संत प्रसाद से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद भी किया। सभी जनप्रतिनिधियों ने गोरखपुर जनपद सहित पूर्वांचल क्षेत्र हेतु इन परियोजनाओं के लिए मुख्यमंत्री जी की सराहना करते हुए उनके प्रति आभार व्यक्त किया और कहा कि इन परियोजनाओं से बड़ी संख्या में जनता लाभान्वित होगी। इस कार्यक्रम से गोरखपुर जनपद के 15 स्थानों से जनप्रतिनिधिगण, विभिन्न सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी व कार्यकर्ता सहित अन्य गणमान्य नागरिक जुड़े हुए थे।

मुख्यमंत्री जी ने लोकार्पित एवं शिलान्यास की गई विद्युत परियोजनाओं को गोरखपुर और प्रदेशवासियों को दीपावली से पूर्व, ऊर्जा विभाग द्वारा अनुपम भेंट बताते हुए कहा कि विगत साढ़े तीन वर्षों में ऊर्जा विभाग द्वारा विद्युत के क्षेत्र में प्रदेश के कायाकल्प के कार्यक्रम प्रारम्भ किए गए, जिन्होंने राज्य की तस्वीर को बदलने का कार्य किया। इन वर्षों के दौरान 1.75 लाख गांवों व मजरों का विद्युतीकरण किया गया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन एवं कुशल नेतृत्व में बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश के घर रौशन हुए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार का दृष्टिकोण रचनात्मक व सकारात्मक होने के कारण बगैर किसी भेदभाव के लोगों को विद्युत परियोजनाओं सहित अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है।

आम आदमी के जीवन स्तर में व्यापक सुधार आया है। ईज आॅफ लिविंग राज्य सरकार की प्राथमिकता है। पूर्व सरकारों में विद्युत आपूर्ति में कटौती होती थी, लेकिन अब निर्बाध विद्युत आपूर्ति निर्धारित रोस्टर के अनुसार लोगों को प्राप्त हो रही है। निःशुल्क विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराए गए हैं। नए विद्युत उपकेन्द्रों और ट्रांसफार्मर्स की स्थापना की गई है। जर्जर तारों और पोल को बदला गया है।

अंडररग्राउण्ड केबलिंग की गई है, जिससे विद्युत दुर्घटनाओं पर रोक लगी है। हर गांव और मोहल्ले की तस्वीर बदली है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...