Home देश इस देश ने पहले भारत से मंगवाई Free की कोरोना वैक्सीन, फिर दूसरे देशों में बेचकर कमाए पैसे…

इस देश ने पहले भारत से मंगवाई Free की कोरोना वैक्सीन, फिर दूसरे देशों में बेचकर कमाए पैसे…

0 second read
0
261

नई दिल्ली: दुनिया कोरोना से जंग लड़ रही है। कई देशों ने कोरोना वैक्सीन बनाने में सफल होने का दावा किया। कई देशों ने वैक्सीन बनाकर लोगों को इम्यून करना शुरू कर दिया है। कोरोना वैक्सीन बनाने में भारत ने निर्णायक भूमिका निभाई है। जहां कई देश इस वैक्सीन को बनाने के बाद इसे दूसरे देशों की बेच रहे हैं वहीं भारत एक ऐसा देश है जो इसे मुफ्त में अन्य देशों को भेज रहा है। अभी तक कई देशों को भारत ने मुफ्त डोज दी है। इसमें दक्षिण अफ्रीका  भी शामिल हैं। लेकिन इस देश ने चालाकी दिखाते हुए हैरान करने वाला काम किया है।

भारत ने कोरोना वैक्सीन बनाने में काफी निर्णायक भूमिका निभाई है। एक साल से जिस वायरस ने तभी मचाई, उसके इलाज के लिए फिलहाल भारत में दो वैक्सीन को परमिशन दी गई है।

इसमें से एक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा बनाया गया एस्ट्राजेनेका वैक्सीन भी शामिल है। भारत ने इस वैक्सीन को देश में लोगों को देने के अलावा दुनिया के कई देशों को फ्री में भी सप्लाई किया है।

भारत ने कई गरीब देशों को भी वैक्सीन सप्लाई की है। मुफ्त वैक्सीन का फायदा लेने वाले देशों में दक्षिण अफ्रीका के कई देश शामिल है। लेकिन अब इस देश से हैरान करने वाली खबर सामने आई है।

रिपोर्ट्स  मुताबिक, दक्षिण अफ्रीका ने भारत से मुफ्त में मिली वैक्सीन को दूसरे देशों को पैसे लेकर बेच दिया। इस सौदे के जरिये दक्षिण अफ्रीका ने काफी पैसे कमाए हैं।

दक्षिण अफ्रीका ने अपने नागरिकों को इम्यून करने की बात कर भारत से वैक्सीन मंगवाई थी। इसके तहत भारत ने दक्षिण अफ्रीका को करीब 10 लाख डोज सप्लाई किये थे। पिछले महीने ही ये ऑर्डर वहां पहुंचा था।

लेकिन दक्षिण अफ्रीका ने अपने नागरिकों को वैक्सीन लगाने की जगह दूसरे देशों को ये वैक्सीन पैसे लेकर बेच दिए। इसकी पुष्टि खुद दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्री ने किया।

दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्री ज्वेली मखिजे ने बताया कि भारत से आए इस इंजेक्शन का नए स्वरुप पर असर को लेकर सवाल उठ रहा था। इस वजह से उन्होंने ये इंजेक्शन दूसरे देशों को बेच दिया।

पहले इस देश ने भारत से ये खेप अपने स्वास्थ्य कर्मियों को लगवाने के लिए मंगवाई थी लेकिन अब इसे कुल 14 देशों को बेच दिया गया है। इस खबर की काफी चर्चा हो रही है।

Load More In देश
Comments are closed.