1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सपा सांसद आजम खां की जमानत के लिए इस महिला ने लिखा ‘खून’ से चिट्ठी, राष्ट्रपति से की अपील

सपा सांसद आजम खां की जमानत के लिए इस महिला ने लिखा ‘खून’ से चिट्ठी, राष्ट्रपति से की अपील

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : सपा  नेता और रामपुर के सांसद आजम खान की रिहाई के लिए लगातार उनके समर्थक तरह-तरह के कदम उठा रहे है। कभी कोई उनके लिए प्रार्थना कर रहा है, तो कभी कोई गैर मुस्लिम उनके लिए रोजा रखकर रिहाई की दुआ मांग रहे हैं तो कहीं उनके लिए यज्ञ कर आहुति दी जा रही है। इसी बीच एडवोकेट विक्की राज की पत्नी नेहा राज ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को अपने खून से पत्र लिखकर सपा सांसद आजम खां को रिहा करने की मांग की है।

नेहा ने अपने पत्र में लिखा है कि सपा सांसद बेगुनाह होते हुऐ भी फर्जी मुकदमों में 26 फरवरी 2020 से जेल में बंद हैं। दरअसल, पिछली नौ मई से वह कोरोना सक्रमित होने के कारण लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में एडमिट है। जहां उनकी हालत बहुत ही गंभीर बताई जा रही है।

पत्र में लिखी ये बातें

नेहा ने लिखा है कि “ महामहिम। आप देश के राष्ट्रपति होने के साथ साथ 135 करोड़ देशवासियों के अभिभावक भी हैं और समस्त देशवासियों की आशाएं आपसे जुड़ी हुई हैं। हम उस देश में रहते हैं जहां एक बलात्कारी बाबा राम रहीम को जमानत मिल जाती है। वहीं शिक्षा के मंदिर बनाने वाले, यूनिवर्सिटी बनाने वाले, बच्चों के स्कूल बनाने वाले, मेडिकल कॉलेज बनाने वाले आज़म खां आज भी जेल में हैं। भारतीय संविधान में किसी के साथ भी पक्षपात की कोई गुंजाइश नहीं है, फिर क्यों आज़म खां के साथ राजनितिक द्वेषभावना के कारण पक्षपात पूर्ण रवैया अपनाया जा रहा है। क्यों आज़म खां को रिहाई नहीं मिल सकती।

आजम के साथ इंसाफ करेंगे

नेहा राज ने आगे लिखा है कि वह बहुत उम्मीद के साथ अपने खून से पत्र लिख रही हैं कि आजम के साथ इंसाफ करेंगे। मैं पूरे दलित समाज की ओर से आपसे ये निवेदन करती हूं कि आप मोहम्मद आजम खां के रिहाई के आदेश पारित करने की कृपा करेंगे। बता दें कि सीतापुर जेल में बंद आजम खान का इलाज कोरोना संक्रमण के कारण लखनऊ के मेदांता अस्पताल में किया जा रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads