Home क्राइम कोविड अस्पताल में लगी आग, 5 मरीजों की दर्दनाक मौत, ICU में पड़ी लाश भी नहीं उठा पाए लोग

कोविड अस्पताल में लगी आग, 5 मरीजों की दर्दनाक मौत, ICU में पड़ी लाश भी नहीं उठा पाए लोग

1 second read
0
260

रायपुर(छत्तीसगढ़):  देश में कोरोना का कहर इतना भयावह हो गया है कि अब इसकी चर्चा करने से ही रुह कांप जा रही है। अस्पतालों से ज्यादा अब लोगो की भीड़ श्यमशान घाटों पर दिखने लगी है। आम नागरिक से लेकर खास नागरिक तक इसकी चपेट में आकर दम तोड़ रहें हैं। संक्रमण का इतना तेजी से विस्फोट हुआ है कि सरकार द्वारा बनाई गई योजनाएं धरी की धरी रह गई हैं। वहीं छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से एक ऐसी दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, जिसे जानकर आपके रोंगटे खड़े हो जायेंगे। यहां के एक निजी अस्पताल के कोविड वार्ड में आग लग गई। जिससे पांच मरीजों की मौत हो गई।

आपको बता दें कि आग इतनी भयंकर लगी थी कि किसी भी शव को उठाने का मौका ही नहीं मिला। इस हादसे के बाद पुलिस अधिकारियों ने शहर के सभी कोविड हॉस्पिटलों में सुरक्षा जॉच के निर्देश दिए हैं। शनिवार की रात अचानक लगी आग में एक मरीज की मौत झुलसने से हो गई, जबकि वहीं चार मरीजों की मौत ऑक्सीजन सिस्टम के फेल होने के बाद दम घुटने से हो गई। हादसे के बाद शहर में हड़कंप मच गया और जिले के तमाम बड़े अधिकारी मौके पर पहुंचे।

आग लगने का कारण अभी तक यही समझ में आया है कि किसी मशीन में हुए शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी। रायपुर के जिलाधिकारी भारती दासन ने प्रारंभिक जांच के बाद बताया कि अस्पताल में आग बुझाने का कोई इंतजाम, इमरजेंसी एग्जिट और वेंटिंलेशन का प्रापर इंतजाम नहीं मिला है। जिसके कारण आग का धुआं सभी कमरों में घुस गया।


उन्होने आगे बताया कि पहले से आक्सीजन की कमी के चलते मरीजों को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। जब धुआं आया तो उनका दम घुटने लगा। मरीजों के परिजनों ने आनन-फानन में हॉस्पिटल के कांच को तोड़कर धुआं बाहर निकाला। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड की टीम ने राहत और बचाव कार्य शुरू किया। इस दौरान मरीजों को अस्पताल से निकालकर दूसरे हॉस्पटिल में शिफ्ट किया गया। पुलिस ने बताया कि हादसे के दौरान अस्पताल में करीब 50 मरीज भर्ती थे। जिसमें से पांच लोगों ने दम तोड़ दिया है।

हादसे की जानकारी होने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दुख जताया है। इसके साथ ही उन्होंने राज्य सरकार से पीड़ित परिवारों को हरसंभव मदत पहुंचाने का भी अनुरोध किया। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घटना पर दुख व्यक्त किया था और मरने वालों के परिवार को चार-चार लाख रुपए मुआवजे की घोषणा की है।

Load More In क्राइम
Comments are closed.