Home क्राइम Bhilwara News: 400 से ज्यादा सिलेंडरों से भरे ट्रक पर गिरी आकाशीय बिजली, धधक उठा इलाका

Bhilwara News: 400 से ज्यादा सिलेंडरों से भरे ट्रक पर गिरी आकाशीय बिजली, धधक उठा इलाका

3 second read
0
45

भीलवाड़ा: भीलवाड़ा से होकर गुजरने वाले जयपुर-कोटा हाईवे पर हनुमान नगर में मंगलवार रात आकाशीय बिजली गिरने से बड़ा हादसा हुआ। बता दें कि टीकड़ गांव में बिजली से हाईवे पर चल रहा ट्रक पलट गया। ट्रक में 450 घरेलू गैस सिलेंडर भरे थे। ट्रक पलटते ही लगी आग से ताबड़तोड़ सिलेंडर फटने का सिलसिला शुरु हो गया। एक के बाद एक करीब ढाई घंटे तक सिलेंडरों में धमाके होते रहे। इस विस्फोटक हादसे के करीब 15 घंटे बाद भी NH-52 बंद रहा। बुधवार सुबह कोटा,अजमेर और जयपुर जाने वाले आवागमन को पहले ही रोक दिया गया। इन्हें डायवर्ट कर जहाजपुर होते हुए बसोली मोड़ से निकाला गया।

बुधवार सुबह मौके पर पुलिस बल तैनात रहा। गैस कंपनी के कर्मचारियों को भी घटनास्थल पर बुलाया गया। इसके बाद आसपास के क्षेत्रों से सिलेंडरों के टुकड़े इकट्‌ठे करने का काम किया जा रहा है। वहीं,घायल ट्रक ड्राइवर और खलासी का देवली के अस्पताल में इलाज जारी है। सिलेंडरों से भरा ट्रक नसीराबाद से कोटा के भवानीमंडी की तरफ जा रहा था, इसी दौरान यह घटना घटी।

आग की लपटें करीब 7 किमी दूर तक देखीं गई-

इस हादसे के बाद आग इतनी भीषण थी कि लपटें 5 से 7 किलोमीटर दूर तक दिखाई दीं। जानकारी मिलते ही हनुमान नगर थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। मौके पर पहुँची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाने की हरसंभव कोशिशें की, लेकिन सिलेंडरों में विस्फोट और आग विक्राल होने से कोई भी ट्रक के पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था।

घरों की छतों पर जा गिरे सिलेंडर के टुकड़े-

टीकड़ गांव मोड़ के समीप रात करीब 8 बजे आकाशीय बिजली गिरते ही धमाके के साथ ट्रक बेकाबू होकर पलट गया। उससे लपटें उठने लगीं और सिलेंडर फटने लगे। हादसे से हाईवे, टीकड़ सहित आसपास के क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया। विस्फोट से सिलेंडर के परखच्चे करीब एक किलोमीटर दूर तक जा गिरे।

150 मीटर दूर भी खड़े रहना हो रहा था मुश्किल-

देवली नगर पालिका के दमकल में काम करने वाले दिनेश ने बताया कि घटनास्थल से करीब 150 मीटर दूर खड़े रह पाना भी मुश्किल हो रहा था। दमकल के नजदीक जाना खतरों से खाली नही था। ट्रक ड्राइवर (बिजेठा) 35 साल के सतराज मीणा ने जैसे तैसे भागकर अपनी जान बचाई। हालांकि  उसका उसका शरीर कई जगह से झुलस गया। जिसका उपचार अस्पताल में जारी है।

Load More In क्राइम
Comments are closed.