1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Paralympics: जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर सुहास एल वाई का कमाल जारी, धमाकेदार जीत से सेमीफाइनल में ली एंट्री

Paralympics: जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर सुहास एल वाई का कमाल जारी, धमाकेदार जीत से सेमीफाइनल में ली एंट्री

जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर और बैटमिंटन खिलाड़ी सुहास एल यथिराज टोक्यो पैरालंपिक में शानदार प्रदर्शन कर रहें हैं। सुहास एल वाई ने पुरुष सिंगल्स बैडमिंटन के सेमीफइनल में जगह बना ली है। जिलाधिरकारी और बैटमिंटन खिलाड़ी एल बाई ने पैरालंपिक में पुरुष बैडमिंटन SL4 एकल वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बनाई है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नोएडा: जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर और बैटमिंटन खिलाड़ी सुहास एल यथिराज टोक्यो पैरालंपिक में शानदार प्रदर्शन कर रहें हैं। सुहास एल वाई ने पुरुष सिंगल्स बैडमिंटन के सेमीफइनल में जगह बना ली है। जिलाधिरकारी और बैटमिंटन खिलाड़ी एल बाई ने पैरालंपिक में पुरुष बैडमिंटन SL4 एकल वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बनाई है।

आपको बता दें कि सुहास एल वाई ने ग्रुप स्टेज में लगातार दूसरी जीत दर्ज की। ग्रुप ए में इंडोनेशिया के सुसांतो हैरी को मात्र 19 मिनट में 21-6, 21-12 से मात दी। 38 वर्षीय सुहास ने इससे पहले गुरुवार को अपने पहले मैच में जर्मनी के येन निकलास पोट को महज 19 मिनट में 21-9 21-3 से मात दी थी।

सुहास एल वाई के एक टखने में दिक्कत है। बतौर जिलाधिकारी उन्होने यूपी के गौतम बुद्ध नगर के जिला मजिस्ट्रेट के रूप में कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में अहम भूमिका निभाई है। इससे पहले वो प्रयागराज के जिलाधिकारी थे, भव्य कुंभ दिव्य कुंभ उन्ही के जिलाधिकारी रहते संपन्न हुआ था। जिसकी काफी ताऱीफ हुई थी।

अब एक बैटमिंटन खिलाड़ी के तौर पर भी देश को गर्व करने का अवसर दे रहें हैं। टोक्यो पैरालंपिक में उनके शानदार प्रदर्शन से देश में तो खुशी का माहौल है ही, खासतौर पर उनके जिले गौतमबुद्धनगर (नोएडा) में भी जश्न का माहौल है।

सुहास एल वाई की इस जीत से नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लोगों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। इससे पहले भी डीएम सुहास एलवाई कई मेडल अपने नाम कर चुके हैं। साल 2016 में बीजिंग में हुए एशियाई पैरा बैडमिंटन चैंपियनशिप में वह एक पेशेवर अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप जीतने वाले पहले भारतीय नौकरशाह बने। उस वक्त वह आजमगढ़ के जिलाधिकारी के रूप में कार्यरत थे। उन्होंने इस टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतकर पूरी दुनिया में भारत का और अपना नाम किया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...