Home Breaking News एक्सप्रेसवे खुला, अब मेरठ से गाजियाबाद 30 मिनट में, DELHI 45 मिनट में

एक्सप्रेसवे खुला, अब मेरठ से गाजियाबाद 30 मिनट में, DELHI 45 मिनट में

6 second read
0
9

रिपोर्ट – माया सिंह

दिल्ली :  दिल्ली से मेरठ और मेरठ से दिल्ली  एक्सप्रेस – वे के जरिय फर्राटा भरने का जो इंतजार कर रहे थे , वो घड़ी अब आ गई है ।  केन्द्र सरकार ने आज यानि गुरूवार से आम जनता के लिये खोल दिया है । जितने भी बैरिकोड के जरिये रास्ते बंद किये गये थे , अब सारे खोल दिये गये हैं ।

ख़ास बात यह है कि इस एक्सप्रेस – वे खुलने से दिल्ली और मेरठ के बीच की दूरी तय करने में सिर्फ 45 मिनट लगेगा । बता दें कि दिल्ली मेरठ से करीब 96 किमी दूर है । इससे पहले मेरठ जाने में कम से कम 2.5 घंटे का समय लगता था ।

बात करें गाजियाबाद की तो  गाजियाबाद से मेरठ जाने में मात्र 30 मिनट का समय लगेगा । यहीं नहीं सबसे बड़ी बात यह है कि, दिल्ली से देहरादून जाने के लिए महज 3 घंटे का समय गाड़ी से लगेगा , जो कि यहां से 210 किमी दूर है । जबकि इससे पहले दिल्ली से देहरादून जाने में करीब 5 घंटे लग जाते थे ।

आइए जानते हैं कि इसके आलावा इस एक्सप्रेस- वे की क्या खासियत है –

  • अब 80 से 100 किमी प्रति घंटा की स्पीड से दौड़ेंगे वाहन
  • एक्सप्रेस वे की हर लेन में 8 से 10 किमी पर लगी डिस्पले में वाहन की स्पीड दिखेगी ।
  • डासना से मेरठ तक एक्सप्रेस वे के चौथे चरण में एक या दो नहीं बल्कि 72 सीसीटीवी लगाए गये हैं ।
  • एक्सप्रेस वे पर लोगों को चढ़ने और उतरने के लिये 5 -5 लेन बनाये गये हैं ।
  • एक्सप्रेसवे के दोनों तरफ पांच-पांच लेने के टोल बूथ होंगे (सभी में 100 मीटर का अंतर होगा)।
  • दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को कुशलिया में ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे से इंटरचेंज बनाकर जोड़ा गया है , जिसमें टोल बूथ उपलब्ध हैं।
  • एक्सप्रेस-वे के चौथे चरण में यानि मेरठ से डासना के 32 किमी खंड पर मेरठ के काशी गांव में 19  बूथों का टोल प्लाजा बनाया गया है ।
  • टोल की वसुली आधुनिक तकनीक के माध्यम से की जाएगी ।

सबसे दिलचस्प बात यह है कि रात की सफर सुहाना बनाने के लिये एक्सप्रेस वे पर रंग-बिरंगी लाइट  लगाई  गई है  ताकि लंबी दूरी तय करते समय लोग बोर न हो । वहीं फूटपाथ और साईकिल पाथ पर अलग से लाइट की व्यवस्था की गई है ।

जानकारी के लिये बता दें कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे को 4 चरणों में पूरा किया गया है। इसके पहले चरण में दिल्ली के निजामुद्दीन सेत से 8.7 किमी यूपी के गेट तक पूरा किया गया । फिर दूसरे चरण में यूपी गेट से लेकर गाजियाबाद के डासना 19.2 किमी तक काम किया गया । इस मार्ग का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 31 दिसंबर 2015 को किया था । बताते चलें कि इस हाईवे में कुल 7,855.87 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं ।

Load More In Breaking News
Comments are closed.