1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. दिल्ली सरकार कोरोना को लेकर हर स्तर पर तैयार, ऑक्सीजन, दवाइयां और बेड मौजूद- सत्येंद्र जैन

दिल्ली सरकार कोरोना को लेकर हर स्तर पर तैयार, ऑक्सीजन, दवाइयां और बेड मौजूद- सत्येंद्र जैन

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली के लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार कोरोना को लेकर हर स्तर पर तैयार है। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, दवाइयां और बेड मौजूद हैं। हम कोरोना की स्थिति पर लगातार नज़र बनाए हुए हैं और आवश्यकता के अनुसार हर संभव कदम उठाने के लिए तैयार हैं।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली: दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली के लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार कोरोना को लेकर हर स्तर पर तैयार है। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, दवाइयां और बेड मौजूद हैं। हम कोरोना की स्थिति पर लगातार नज़र बनाए हुए हैं और आवश्यकता के अनुसार हर संभव कदम उठाने के लिए तैयार हैं। विदेश से आ रहे यात्रियों में ओमिक्रोन के सबसे ज्यादा मामले पाए जा रहे हैं। दिल्ली में ओमीक्रोन के अब तक 238 मामले आएं हैं। इनमें से 57 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि हमने वैक्सीनेशन की क्षमता बढ़ा दी है और हम रोजाना तीन लाख तक वैक्सीनेशन करने में सक्षम हैं। जनवरी के पहले हफ्ते से बच्चों को वैक्सीन और बुजुर्गों को बूस्टर डोज़ देने के लिए तैयारी पूरी कर ली गई है। सभी से अपील है कि ओमिक्रोन से घबराने की नहीं, बल्कि सावधानी बरतने की जरूरत है। सभी लोग मास्क लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को प्रेस को संबोधित कर कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन पर दिल्ली की स्थिति पर विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दिल्ली में कुल 238 ओमिक्रॉन के मामले सामने आए हैं। इनमें से 57 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। दिल्ली में कुल 4 जीनोम सिक्वेंसिंग लैब हैं, जो अपनी पूरी क्षमता से कार्य कर रही हैं। डेल्टा वेरिएंट के मुक़ाबले ओमिक्रोन वेरिएंट ज्यादा माइल्ड और कम घातक हैं। विदेशों से दिल्ली आने वाले लोग इस वेरिएंट से सबसे संक्रमित पाए जा रहे हैं। फिलहाल किसी भी मरीज को ऑक्सीजन लगाने की जरूरत नहीं पड़ी है और ज्यादातर मरीजों में मामूली लक्षण ही मिले हैं।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली सरकार कोरोना के मामले बढ़ने पर और पाबंदियां लागू कर सकती है। यदि लगतार 2 दिन तक संक्रमण दर (पाजिटिविटी रेट) 1 फीसद से ज्यादा रहती है, तो दिल्ली में लेवल दो का अम्बर अलर्ट जारी कर दिया जाएगा। अम्बर अलर्ट जारी होने पर दिल्ली में स्कूल-कॉलेज, पार्क, रेस्टोरेंट (होम डिलीवरी छोड़कर) इत्यादि सब बंद रहेंगे, केवल आवश्यक सेवाओं को छूट रहेगी। नाइट कर्फ्यू को और सख्त कर दिया जाएगा। दिल्ली के हालातों पर स्वास्थ्य विभाग पैनी नज़र बनाए हुए हैं। जरूरत पड़ने पर हर संभव कदम उठाने के लिए दिल्ली सरकार तैयार है। महामारी एवं स्वास्थ्य से संबंधित सभी विशेषज्ञ दिल्ली सरकार के साथ संपर्क में हैं और स्वास्थ्य सुरक्षा से जुड़े हर क़दम में सरकार का सहयोग दे रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने आगे कहा कि दिल्ली सरकार कोरोना पर काबू पाने के लिए हर संभव संसाधनों के साथ तैयार है। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, दवाइयां और अस्पतालों में बेड मौजूद हैं। जनवरी के पहले हफ्ते से बच्चों की वैक्सीन और बुजुर्गों को बूस्टर डोज़ लगाने की तैयारी पूरी कर ली गई है। पहले से मौजूद वैक्सीनेशन सेंटर में ही बच्चों की वैक्सीन और बुजुर्गों को बूस्टर डोज़ लगेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली के लोगों से कोरोना से संबंधित नियमों का कड़ाई से पालन करने का आग्रह किया। उन्होंने लोगों से सार्वजनिक जगहों पर सुरक्षा के लिए मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की और कहा कि कोरोना से घबराने की जरूरत नहीं है, केवल सावधानी ही इसका बचाव है। ओमिक्रोन वेरिएंट कोरोना का ही वेरिएंट है और इसके इलाज़ एवं इस से बचने का प्रोटोकॉल भी पहले की तरह ही है। सभी लोग मास्क लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। इस दौरान उन्होंने लोगों से कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज़ लेने की अपील भी की।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...