Home अयोध्या बाबरी विध्वंस पर 28 साल बाद फैसला -आडवाणी, जोशी, उमा भारती सहित सभी आरोपी बरी

बाबरी विध्वंस पर 28 साल बाद फैसला -आडवाणी, जोशी, उमा भारती सहित सभी आरोपी बरी

2 second read
0
10

बाबरी विध्वंस केस में बड़ा फैसला- आडवाणी, जोशी, उमा सहित सभी आरोपी बरी

अयोध्या में छह दिसंबर 1992 को ढहाए गए विवादित ढांचे के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने आज फैसला सुनाया । इस मामले में भाजपा के वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, उमा भारती, विनय कटियार समेत 32 आरोपी थे ।

28 वर्ष तक चली सुनवाई के बाद ढांचा विध्वंस के आपराधिक मामले में फैसला सुनाने के लिए सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एसके यादव ने सभी आरोपियों को आज तलब किया है। हालांकि कई आरोपी आज कोर्ट में पेश नहीं हुए । 28 साल बाद फैसला आने के बाद -आडवाणी, जोशी, उमा भारती सहित सभी आरोपी बरी कर दिया है , फैसले को के बाद रामनगरी की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

बाबरी विध्वंस केस  में सीबीआई की विशेष अदालत ने अहम फैसला सुनाया है। कोर्ट ने इस मामले में माना कि घटना पूर्व नियोजित नहीं थी। कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया। कोर्ट का फैसला 28 साल बाद आया है। जज एसके यादव ने कहा कि 1992 को जो कुछ हुआ पूर्व नियोजित नहीं थी। जज ने कहा घटना सुनियोजित नही थी,अचानक से घटना हुई। आवेश में घटना को अंजाम दिया गया. कोर्ट ने फैसले में कहा कि लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती जैसे नेताओं ने भीड़ पर काबू करने की कोशिश की।

 

Load More In अयोध्या
Comments are closed.