Home उत्तर प्रदेश लोहरी की अग्नि में जलाएंगे कृषि बिलों की प्रतियां

लोहरी की अग्नि में जलाएंगे कृषि बिलों की प्रतियां

3 second read
0
8

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के रद्द करने और एमएसपी पर कानून बनाने की मांग को लेकर किसानों का आंदोलन आज भी लगातार जारी है। देशभर में 13 जनवरी को मनाए जाने वाले लोहड़ी के पर्व पर किसान कृषि कानूनों की कॉपी जलाएंगे। यूपी गेट पर किसानों की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। भारतीय किसान यूनियन ने किसान आंदोलन को और तेज करने के लिए कृषि बिलों को जलाने का निर्णय लिया है।

यूपी गेटर पर कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन 48 दिनों से लगातार जारी है। इसी कड़ी में किसान लोहड़ी की अग्नि में तीनों कानूनों की प्रतियों को जलाकर विरोध जताएंगे। यूपी गेट पर शाम साढ़े पांच बजे कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जहां मंच के पास ही लोहड़ी जलाई जाएगी।

18 जनवरी को मनाया जाएगा महिला किसान दिवस

बताया जा रहा है कि कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर किसानों के आंदोलन को सफल बनाने के लिए भारतीय किसान यूनियन 13 जनवरी को कृषि बिलों की प्रतियां दहन करने के साथ-साथ 18 जनवरी को महिला किसान दिवस मनाएंगे। इस दिन की मंच की कमान महिला किसानों को हाथ में होगी।

किसान संगठनों की माने तो 17 जनवरी से महिला किसान आंदोलन स्थल पर पहुंचने लगेंगी, जिसके मद्देनजर उनके ठहरने की व्यवस्था हेतु अलग से कैंप तैयार किये जाएंगे। साथ ही महिलाओं की हर तरह की सुविधा मुहैया कराने के लिए महिला वॉलेंटियर तैनात किया जाएगा। महिला कैंप के आसपास पुरुषों का आना-जाना प्रतिबंधित रहेगा।

26 जनवरी को हर जिले में नियुक्त होंगे प्रभारी

वहीं, इस आंदोलन के मद्देनजर 26 जनवरी को हर जिले में प्रभारी नियुक्त होंगे। साथ ही गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में होने वाली परेड में शामिल होने की तैयारी जोरों पर चल रही है। मंगलवार को युवा किसानों ने आगे तिरंगा बनी टी-शर्ट पहनकर ट्रैक्टर चलाकर रिहर्सल किया। दिनभर युवाओं ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर ट्रैक्टर चलाककर रिहर्सल किया। युवा किसानों का कहना है कि सभी किसान 26 जनवरी पर ऐसी टी-शर्ट पहनेंगे, जिस पर आगे तिरंगा बना हुआ होगा।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.