Home ताजा खबर CAA: जेपी नड्डा की वडोदरा में रैली, कहा- कांग्रेस पार्टी दलित-दलित करके बहा रही घड़ियाली आंसू

CAA: जेपी नड्डा की वडोदरा में रैली, कहा- कांग्रेस पार्टी दलित-दलित करके बहा रही घड़ियाली आंसू

2 second read
0
28

नागरिकता कानून को लेकर बीजेपी लोगों में जागरुकता फैलाने के लिए देश के कई राज्यों में रैली कर रही है। आज गुजरात के वडोदरा में ‘सीएए जन जागरण अभियान’ में जेपी नड्डा ने कहा कि, दलित दलित करके कांग्रेस बहा रही है घड़ियाली आंसू।

आखिर पाकिस्तान से कहां गए ये 20 प्रतिशत हिंदू?

उन्होंने कहा कि, आजादी के बाद हमने धर्मनिपेक्ष होना तय किया था और पाकिस्तान ने खुद को इस्लामिक देश घोषित किया। धर्म निरपेक्षता के खिलाफ बीज तो पाकिस्तान ने उसी समय बो दिया था। पाकिस्तान में बंटवारे के समय हिंदुओं की संख्या 23 प्रतिशत थी, जो अब घटकर 3 प्रतिशत के आस-पास आ गई। आखिर कहां गए ये 20 प्रतिशत लोग?

तब देश में मुस्लिमों की आबादी करीब 9 प्रतिशत थी, और पिछली जनगणना के अनुसार उनकी जनसंख्या करीब 14 प्रतिशत हो गई। हमें इस बात की खुशी है, क्योंकि हमने सबको आगे बढ़ाने का प्रयास किया।

कांग्रेस बहा रही है घड़ियाली आंसू

जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए कहा कि, आज कल कांग्रेस पार्टी दलित, दलित, दलित की बात कर रही है, घड़ियाली आंसू बहा रही है। कांग्रेस ने कभी भी दलितों का भला नहीं किया, इन्होंने हमेशा राजनीतिक रोटियां सेकी। जिनको हमारी सरकार नागरिकता प्रदान कर रही है इसमें 80% दलित हैं। गांधी जी ने कहा था कि शरणार्थियों की व्यवस्था करनी चाहिए। वो वहां नहीं रह पा रहे हैं तो उन्हें भारत में लाना चाहिए। जवाहर लाल नेहरू जी ने कहा था कि सेंट्रल रिलीफ फंड से उन्हें पैसा देना चाहिए ताकि उनके जख्मों पर मरहम लगाया जाए।

मनमोहन सिंह जी ने कहा था कि प्रताड़ित लोगों की हमें व्यवस्था करनी चाहिए

इसके आगे उन्होंने कहा कि, राज्य सभा में मनमोहन सिंह जी ने कहा था कि बांग्लादेश से धर्म के आधार पर प्रताड़ित लोगों की हमें व्यवस्था करनी चाहिए। अब उनकी व्यवस्था नरेन्द्र मोदी जी ने की और उन्हें मुख्य धारा में शामिल किया। कांग्रेस का हिंसा में अगर हाथ नहीं है तो इतने दिन हो गए इन्होंने हिंसा की निंदा क्यों नहीं की? सार्वजनिक सम्पत्ति का नुकसान हुआ लेकिन किसी ने निंदा नहीं की। इनका उद्देश्य जनता का भला करना नहीं है। इनका उद्देश्य है भारत की जनता को गुमराह करना।

लोगों को गुमराह करना छोड़ दे विपक्ष

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में कुछ राज्य प्रस्ताव पास कर रहे हैं। नागरिकता केंद्र का विषय है और ये कानूनी तौर पर पास हुआ है। ये लागू हो चुका और अब शरणार्थियों को नागरिकता मिलकर रहेगी। विपक्षी लोगों को गुमराह करना छोड़ दें।

Share Now
Load More In ताजा खबर
Comments are closed.