Home देश बिहार में किसके सिर सजेगा ताज ! तारीखों के एलान के साथ ही चिराग पासवान ने भरी हुंकार, पढ़े

बिहार में किसके सिर सजेगा ताज ! तारीखों के एलान के साथ ही चिराग पासवान ने भरी हुंकार, पढ़े

1 min read
0
8

कोरोना महामारी के बीच बिहार विधानसभा के लिए चुनावों की तारीखों का एलान हो गया है। राज्य में तीन चरणों में चुनाव होंगे।

 

पहले चरण में 71 सीटों के लिए 28 अक्तूबर को वोट डाले जाएंगे। दूसरे चरण में 94 सीटों के लिए 3 नवंबर को मतदाता कर सकेंगे। वहीं 78 सीटों के लिए 7 नवंबर को मतदान होगा।29 नवंबर को बिहार विधानसभा का कार्यकाल समाप्त हो रहा है।

वही दूसरी तरफ तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव कृषि बिल के विरोध में पटना की सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे है।

उनके द्वारा किये गए प्रदर्शन को राष्ट्रीय जानता दल ने एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया कि जो सरकार निकम्मी है, वो सरकार बदलनी है।

इसके बाद राष्ट्रीय जानता दाल ने एक ट्वीट पर रीट्वीट करते हुए लिखा कि तेजस्वी यादव किसान भाइयों के समर्थन में सड़क पर। बदलाव की बयार बिल्कुल साफ़ दिख रही।

बिहार के चुनाव का ऐलान होने के बाद से राष्ट्रीय जानता दाल ने चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। उन्होंने ट्वीट शेयर करते हुए लिखा चलो चलें, बिहार बदलें! चलो निकम्मी सरकार बदलें! ढीला ढाला रेंगने वाला पलटू कठपुतली नहीं दमखम वाला विवेकी मृदुल युवा की सरकार चुनें!

वही दूसरी तरफ लोक जनशक्ति पार्टी के युवा नेता और रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान ने बिहार चुनाव को लेकर कई ट्वीट किये जिसमे उन्होंने लिखा “बिहार चुनाव की तारीख़ों की घोषणा हो गई है।चुनाव आयोग के फ़ैसले का लोक जनशक्ति पार्टी सहर्ष स्वागत करती हैं। साल 2020 के चुनाव बिहार में बेहतरी की नई कहानी लिखेंगे।”

लोक जनशक्ति पार्टी के संस्‍थापक व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान की तबीयत खरब होने के कारण वह दिल्‍ली के फोर्टिस अस्‍पताल के आइसीयू में भर्ती हैं। वही चिराग पासवान ने अपने ट्वीट में कहा है कि चुनाव की घोषणा के इस महत्वपूर्ण अवसर पर थोड़ा भावुक भी हूँ।

पापा अस्पताल में है और मार्गदर्शन करने वाले उनके शब्दों की कमी महसूस कर रहा हूँ।बिहारियों के लिए उनकी कल्पना को साकार करने की कोशिश करूँगा।

उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट किये जिसमे उन्होंने लिखा कि “पिछले 50 साल में पहली बार ऐसा हुआ है जब आप सब के नेता और मेरे पापा इस चुनाव में बिहार में उपस्तिथ नहीं हो पाएँगे।मुझे विश्वास है की वो जल्द डिजिटल माध्यम सभी बिहार वासीयों से जुड़ेंगे।”

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा “पापा का अंश हूँ और विपरीत परिस्थितियों में लड़कर जीतना उन्हीं से सीखा है। इस मुश्किल घड़ी में मेरे साथ खड़े होने के लिए आप सब का आभार।जो लोग बिहार पर नाज़ करना चाहते है उन सभी से अपील करता हूँ की बिहार1st बिहारी1st की सोच के साथ आगे आए नया बिहार युवा बिहार बनाए।”

अब यह देखना होगा की हाल ही में आने वाले चुनाव में किसकी जीत का डंका बजता है।

Load More In देश
Comments are closed.