1. हिन्दी समाचार
  2. विदेश
  3. अफगानिस्तान में जारी हिंसा के बीच सामने आया तालिबान की क्रूरता का वीडियो, अल्‍लाह हू अकबर कह 22 निहत्‍थे अफगान कमांडो को भूना

अफगानिस्तान में जारी हिंसा के बीच सामने आया तालिबान की क्रूरता का वीडियो, अल्‍लाह हू अकबर कह 22 निहत्‍थे अफगान कमांडो को भूना

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : अफगानिस्तान में जारी हिंसा के बीच तालिबान की क्रूरता का एक बेहद ही खौफनाक वीडियो सामने आया है। जिसमें वह 22 निहत्थे अफगान कमांडो को अल्लाह हू अकबर के नारों के साथ गोलियों से भून देता है। इन सभी कमांडो ने गोलियां खत्म होने के बाद तालिबान के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था। इसके बावजूद उन्होंने उन निहत्थे अफगान कमांडो पर गोलियों की बारिश कर दी।

सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक यह हत्‍याकांड अफगानिस्‍तान के फरयाब प्रांत के दौलताबाद इलाके में 16 जून को अंजाम दिया गया। तालिबान की बढ़त को देखते हुए सरकार ने अमेरिका के प्रशिक्षित कमांडो की टीम को भेजा था ताकि इलाके पर फिर से कब्‍जा किया जा सके। इसमें एक रिटायर जनरल का बेटा भी था। इस टीम को जब तालिबान ने घेर लिया तो उन्‍होंने हवाई सहायता मांगी लेकिन उन्‍हें यह नहीं मिला।

निहत्‍थे सैनिकों की तालिबान ने हत्‍या की

तालिबान का दावा है कि इन अफगान कमांडो को गोलियां खत्‍म होने के बाद पकड़ा गया था लेकिन प्रत्‍यक्षदर्शियों और ताजा वीडियो फुटेज में नजर आ रहा है कि इन निहत्‍थे सैनिकों की तालिबान ने हत्‍या की थी। यह घटना ऐसे समय पर हुई है जब अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद तालिबान ने पूरे अफगानिस्‍तान में अपने हमले को बहुत तेज कर दिया है। तालिबान का दावा है कि अब उसका देश के 85 इलाके पर कब्‍जा हो गया है। देखें वीडियो:

वीडियो में दिखाई पड़ रहा है कि अफगान सैनिक अपने हाथ उठाए हुए हैं और कई लोग जमीन पर झुके हुए हैं। इस वीडियो में एक आवाज आ रही है जिसमें कहा जा रहा है, ‘गोली मत मारो। गोली मत मारो। मैं आपके सामने रहम की भीख मांगता हूं।’ इसके कुछ ही सेकंड के बाद तालिबान आतंकियों ने अल्‍लाह हू अकबर के नारे लगाए और निहत्‍थे सैनिकों पर गोलियों की बारिश कर दी।

कई बार मदद मांगने के बाद भी नहीं मिली हवाई सहायता

एक अन्य वीडियो में नजर आ रहा है कि सैनिकों का शव जमीन पर पड़ा हुआ है। सीएनएन ने दावा किया कि उसने प्रत्‍यक्षदर्शियों से बात की है। उनका कहना है कि ये कमांडो आमर्ड व्‍हीकल से आए थे और करीब दो घंटे तक उनकी तालिबान के साथ जंग चली। इस दौरान उनकी गोलियां खत्‍म हो गई और वे फंस गए। कई बार मदद मांगने के बाद भी उन्‍हें हवाई सहायता नहीं मिली। वहीं अन्‍य सैनिकों ने इन कमांडो को धोखा दे दिया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads