Home देश वायुसेना ने ऑक्सीजन संकट को दूर करने के लिए झोंकी ताकत, कहा- वायुसेना तब तक चैन से नहीं बैठेगी जब तक देश की जरूरतें पूरी नहीं होतीं

वायुसेना ने ऑक्सीजन संकट को दूर करने के लिए झोंकी ताकत, कहा- वायुसेना तब तक चैन से नहीं बैठेगी जब तक देश की जरूरतें पूरी नहीं होतीं

3 second read
0
22

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: कोरोना के दूसरे लहर के कहर से देश में मचे ऑक्सीजन की कमीं से हाहाकार के बीच भारतीय वायुसेना भी युद्ध स्तर पर काम करने में जुट गई है। वायुसेना देश और विदेश से ऑक्सीजन टैंकर को जुटाने के लिए अपने अभियान में तेजी लाकर लोगो को दम तोड़ने सें बचाने में जुट गई है। वायुसेना के मालवाहक विमान C-17 ग्लोबमास्टर दुबई से छह विशेष क्रायोजिनक ऑक्सीजन टैंकर लेकर सोमवार रात बंगाल के पानागढ स्थित एयरबेस पर पहुंच गया। वहीं मंगलवार को भी छह क्रायोजिनक टैंकर दुबई से भारत लाएगी।

इसके साथ ही वायुसेना ने अपने विमानों के देश में उन स्थानों पर टैंकरों को पहुंचाने के लिए लगाई है, जहां कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन संजीवनी की कमी का संकट झेलना पड़ रहा है। आपको बता दें कि दुबई से लाए जा रहे इन खाली टैंकरों में ऑक्सीजन भर कर देश भर में पहुंचाई जाएगी। वायुसेना जरूरत के हिसाब से भरे हुए ऑक्सीजन टैंकर निकट के एयरबेस तक पहुंचाएगी।

आपको बता दें कि दुबई से टैंकर लेकर ग्लोबमास्टर विमान के भारत रवाना होने के बाद ही वायुसेना ने जानकारी दी थी, कि मंगलवार को भी वायुसेना का वही विमान दुबई से छह और क्रायोजनिक टैंकर लेकर आएगा। इससे पहले शनिवार को भी वायुसेना का ग्लोबमास्टर सिंगापुर से चार क्रायोजनिक टैंकर लेकर भारत आया था।

वायुसेना ने अपने आधुनिक मालवाहक ग्लोबमास्टर के अलावा C-130 J सुपर हरक्यूलिस विमान और IL-76 हेलीकाप्टर ऑक्‍सीजन और अन्य संसाधन जल्द से जल्द मरीजों तक पहुंचाने में लगे हुए हैं। रक्षा सचिव डा. अजय कुमार ने दुबई गए ग्लोबमास्टर का वीडियो ट्वीट कर सोमवार को कहा कि वायुसेना तब तक चैन से नहीं बैठेगी जब तक देश की जरूरतें पूरी नहीं होतीं।

जबकि बात करें रेलवे की तो रेलवे ने अभी तक 302 टन से ज्यादा ऑक्‍सीजन की ढुलाई की है जबकि 154 टन से ज्यादा ऑक्सीजन अभी रास्ते में है। रेलवे की ओर से जारी बयान के मुताबिक एक ऑक्सीजन एक्सप्रेस रायगढ़ से चार टैंकरों में ऑक्‍सीजन लेकर दिल्ली पहुंचेगी। एक अन्य आक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन बोकारो से पांच टैंकरों में करीब 90 टन ऑक्‍सीजन लेकर मंगलवार को लखनऊ पहुंचेगी। इसके बाद यह ट्रेन और ऑक्सीजन लाने के लिए बोकारो के लिए रवाना हो जाएगी।

 

Load More In देश
Comments are closed.